राहुल गांधी ने PM मोदी पर कसा तंज, बोले – तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला क्यूं लुटा

राहुल गांधी ने पीएम मोदी के संबोधन के ठीक बाद शाहब ज़ाफरी के शेर के जरिए तंज कसा है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया,”तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा, मुझे रहज़नों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है।”

कोरोना संकट के मद्दनजर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के सही फैसले ने आज कई लोगों की जान बचाई है।

पीएम ने अपने संबोधन में कोरोना पर तो बहुत कुछ कहा लेकिन चीन के साथ सीमा पर जारी विवाद को लेकर कुछ नहीं। अब इसी को लेकर कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने निशाना साधा है।

दरअसल जब भी राजनीतिक पिच पर अपने विपक्षी को घेरने और उसके राजनीतिक फैसले या लीडरशिप पर सवाल खड़ा करने की जरूरत आती है। सियासतदान भी शेर व शायरी के फन को सराहने लगते हैं और इसके सहारे अपने विपक्षी को आड़े हाथों लेते हैं।

आज राहुल गांधी ने इस फन का सहारा लिया और बिना चीन का नाम लिए, गलवान घाटी में भारत के 20 बहादुर जवानों की शहादत को लेकर पीएम मोदी की रहबरी पर सवाल खड़े किए।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी के संबोधन के ठीक बाद शाहब ज़ाफरी के शेर के जरिए तंज कसा है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया,”तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा, मुझे रहज़नों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है।”

बता दें कि पीएम मोदी के संबोधन से पहले भी राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर पूछा था, “पूरा देश जानता है कि चीन ने भारत की पवित्र जमीन छीनी है। चीन लद्दाख में चार जगहों पर अंदर बैठा हुआ है। मोदी जी, देश को बताइए चीन की फौज को हिंदुस्तान से आप कब निकालेंगे और कैसे?”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लॉकडाउन की तारीफ की और कहा कि कोरोना के संकटकाल में भारत की स्थिति काफी बेहतर है लेकिन आज जब हमें ज्यादा सतर्कता की जरूरत है तो लापरवाही बढ़ना बहुत ही चिंता की बात है। हम अनलॉक के दौर में प्रवेश कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम अनलॉक -2 में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार के मामले बढ़ जाते हैं। अगर कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है। समय पर किए गए लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है।

उन्होंने आगे कहा,”अब जब से देश में Unlock-One हुआ है, व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही भी बढ़ती ही चली जा रही है। पहले हम मास्क को लेकर, दो गज की दूरी को लेकर, 20 सेकेंड तक दिन में कई बार हाथ धोने को लेकर बहुत सतर्क थे।”

पीएम मोदी ने कहा कि इस समय जो लापरवाही कर रहे हैं वो ये नहीं समझ रहे हैं कि वो कोरोना के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर रहे हैं, ऐसे लोगों को लापरवाही करने से रोकना होगा और नियमों का पालन कराना होगा।