baba  Ramdev नई दिल्ली- पतंजलि की देसी घी में फफूंद मिलने के बाद उत्तराखंड के स्वास्थ्य विभाग की टीम नें पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड से सैंपल उठाए हैं और रुद्रपुर लैब में जांच के लिए भेजा है। इसके चलते योग गुरु बाबा रामदेव का देसी घी विवादों में फंंस गया है। लैब रिपोर्ट आने में 14 दिन लगेंगे।

15 दिन में रामदेव के दूसरे प्रोडक्ट की इस तरह की जांच हुई है। इससे पहले 11 दिसंबर को भी आटा नूडल्स के सैंपल की जांच कराई गई थी। भले ही केंद्र में बीजेपी की हो और मोदी को पीएम बनाने में रामदेव के भी प्रयास शामिल रहे हों, लेकिन इन सबके बावजूद रामदेव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है।

रामदेव के गाय के देशी घी में फफूंद की शिकायत मिलने के बाद सोमवार को उत्तराखंड के स्वास्थ्य महकमे ने पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड पहुंचकर घी के दो सैमपल लिए और जांच के लिए भेज दिए। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने पतंजलि योगपीठ के निकट स्थित पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड फैक्ट्री पहुंचकर बाबा द्वारा बनाए जा रहे गाए के देशी घी की सैमपलिंग की।

खाद्य सुरक्षा विभाग इन सैम्पल को जांच के लिए रुद्रपुर स्थित लैब में जांच के लिए भेजा है जिसकी रिपोर्ट 14 दिन में आने की संभावना है। रिपोर्ट आ जाने के बाद मामले में कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here