Home > India > जनता के पैसे से भक्ति का ढोंग कर रहे शिवराज- आलोक अग्रवाल

जनता के पैसे से भक्ति का ढोंग कर रहे शिवराज- आलोक अग्रवाल

खंडवा- मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर नमामि देवी सेवा यात्रा के नाम पर ढोंग करने जनता के पैसे से भक्ति करने का आरोप भी लगा। आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अलोक अग्रवाल ने खंडवा में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह आरोप लगाए। साथ ही उन्होंने कहा कि सीएम को सच्ची सेवा उनकी करना चाहिए जो नर्मदा के कारण विस्थापित हुए है। उन्होंने सीएम के बार बार हनुवंतिया आने को लेकर भी निशाना साधा है।

आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि नर्मदा नदी सदियो से बह रही है। जिसमें लोग पले बढे है। जिसमें लाखों जानवर रहे है। शिवराज सरकार ने इस पूरी घाटी को तहस नहस किया है। पहले करीब दस लाख लोगो को उजाड़ा है। लाखो एकड जंगल डुबाये है। लाखो एकड़ जमींन डुबाई है। उसके बाद वो आज नर्मदा सेवा यात्रा के नाम पर ढोंग कर रहे है। यदि उनको नर्मदा बचाना है तो शहरो से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन करके नर्मदा में जाने से रोकना चाहिए।

उन्होंने कहा कि नर्मदा किनारे बड़े बड़े प्लांट्स आ रहे है यदि वो जरुरी नही तो उसे बंद कर देना चाहिए और यदि जरुरी है तो उनका कोई कचरा नदी में नही जाये। सेवा तभी होगी जब उसमे रहने वाले विस्थापितों का पुनर्वास किया जायेगा। जो जंगल, जमीन डुबोई है उसके एवज में हरियाली कायम कर सके।

शिवराज सिह ने अपने १३ साल के राज में सिर्फ ढोंग ही ढोंग किया है। आज मध्यप्रदेश की आर्थिक स्थिति सबसे ख़राब है। बिजली के दाम सबसे ज्यादा है, मध्यप्रदेश में रोज ४ किसान आत्महत्या कर रहे हैं। स्वास्थ्य सेवा चरमरा रही है शिक्षा में सबसे पिछड़ा हुआ है। अपराध में सबसे ऊपर है।

शिवराज सिह को यह सब काम बंद करके लोगो के लिए काम करना चाहिए नही तो 2018 में निश्चित रूप से शिवराज सरकर पलटी जाएगी। 2018 में आम आदमी की सरकार बना कर जितने घोटाले हुए है उन घोटालो के ठेकेदारो को जेल भेजेगी।

नर्मदा को बेचने के लिए आ रहे है हनुवंतिया
अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिह चौहान के बार बार हनुवंतिया टापू पर आने को लेकर आलोक अग्रवाल ने निशाना साधते हुए कहा कि वह नर्मदा की सेवा नही नर्मदा को बेचना चाहते है। नर्मदा का पानी बड़े बड़े उद्योगपतियों को बेचने के लिए इसका प्रचार रहे है। और बार बार यहाँ आ रहे है। हनुवंतिया टापू की वो जो जिस जमींन पर फेटा बाधंकर वह चाय पीते है। वह जमींन किसकी थी ? आज वो किसान भीख मांग रहा है। यह पता लगाना जरुरी है।
रिपोर्ट- @शुभम जायसवाल




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com