Home > Exclusive > आप नेता संदीप कुमार सेक्स सीडी कांड की पूरी हकीकत

आप नेता संदीप कुमार सेक्स सीडी कांड की पूरी हकीकत

Aap minister sandeep kumar mms Latest Newsदिल्ली के महिला कल्याण मंत्री संदीप कुमार की एक सेक्स सीडी इन दिनों चर्चा में है। इस सेक्स टेप के जरिये उन पर गंभीर आरोप लगाये जा रहे है। यह सेक्स स्कैण्डल इतना वायरल हुआ कि सभी विरोधियों को एक स्वर में आप पार्टी की धज्जियां उड़ाने का मौका मिल गया। इस सी.डी. में अब पूर्व मंत्री संदीप कुमार महिला के साथ अश्लील मुद्रा में है। यह सी.डी. या टेप अभी किसी एजेन्सी द्वारा प्रमाणित नहीं किया गया। इस घटना के तुरन्त बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आपके इस केबिनेट मंत्री संदीप कुमार को बर्खास्त कर पार्टी से हटा दिया है और कहा आपके आंदोलन को धोखा दिया है। ‘‘ हम मरना, पार्टी भंग करना पसंद करेंगे लेकिन इस तरह की गलत चीजों को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे।’’ उधर निकाले गये मंत्री संदीप कुमार ने दलित कार्ड खेलते हुए कहा कि मुझे दलित होने की वजह से साजिशन फंॅसाया गया है। भा.ज.पा व कॉंगेस के नेताओं ने पलटवार करते हुए कहा कि आपकी सच्चाई सामने आने पर आप पार्टी के लोग इसे दलित मुद्दे से जोड़कर लोगों केा भ्रम में डालना चाहते हैं। इस टेप के आने के बाद कुछ प्रश्न उठ खड़े हुए है जैसे कि यह सेक्स टेप 1साल पुराना लगता है।

यह टेप-रिकार्ड अगर संदीप कुमार ने किया है तो क्यों? अगर नहीं तो किसने? क्या यह टेप ब्लैकमेल के लिए बनाया गया था? टेप में जो कमरा दिखा है वो कहॉं का है? ऐसे अनगिनत प्रश्न है जिनका उत्तर मिलना बाकी है। आप पार्टी का दावा टॉय-टॉय फिस्स हुआ कि हम साफ छवि वालों को पार्टी में पद देते है और साफ, ईमानदार छवि वालों को मंत्री बनायेंगे। वहीं संदीप कुमार का यह भी कहना है कि जो महिला के साथ व्यक्ति दिखाया गया है वो मैं नहीं हूॅ।

बुधवार 31 अगस्त 2016 को सी.डी. आने के 30 मिनट बाद ही पूरे देश में चर्चा फैल गयी। सी डी में दिखाई गयी महिला अचानक थाने पहुँच कर सुल्तानपुरी थाने दिल्ली में मुकदमा दर्ज़ कराया, उसके बाद आप नेता संदीप कुंमार को गिरफ़्तार किया गया,महिला का कहना है कि एक साल पहले राशन कार्ड बनवाने के सिलसिले में मंत्री जी के पास गयी थी तब उन्होंने कोल्ड ड्रिन्क पिलाई जिसके बाद दुष्कर्म किया,रिकॉर्डिंग व टेप बनाने की जानकारी नहीं थी।संदीप पर धारा ३७८ ,२२८ ,६७ ऐ,आई टी एक्ट के अन्तर्गत रिपोर्ट लिखी गयी है।

वैसे देश में आजादी के समय से सेक्स स्केण्डलों की चर्चा रही है पर पहले साधन नहीं थे कि कोई स्टिंग आपरेशन कर ले या टेप कर सी.डी. तुरन्त वायरल कर दे। सेक्स स्केण्डल की चर्चा जब श्ुारू हुई तो महात्मा गॉधी- नेहरू से लोगों ने शुरूआत कर डाली।
आप पार्टी के कद्दावर नेता, प्रवक्ता व पत्रकार आशुतोष ने तो संदीप कुमार के बचाव में अपने ब्लाग में लिखा कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं0 जवाहर लाल नेहरू और एडविना के रिश्तों की ख्ूाब चर्चा हुई। एडविना माउण्टब्रिटेन का लगाव नेहरू की आखिरी सांस तक बना रहा। देश की राष्ट्रपिता महात्मा गॉधी के लिये लिखा कि 1990 में कॉंग्रेस की बड़ी नेता सरला चौधरी से महात्मा गॉधी के रिश्ते थे। सरला रविन्द्र नाथ टैगोर की दूर की रिश्तेदार थी। गॉधी जी ने ख्ुाद स्वीकार किया था कि सरला उनकी आध्यात्मिक पत्नी थी। पत्नी कस्तूरबा गॉधी इस बात को लेकर काफी दुःखी रहती थी। महात्मा गॉधी ब्रम्हचर्य के प्रयोग के समय अपनी दो भतीजियों के साथ नंगे सोते थे। नेहरू के समझाने पर भी नहीं माने। वैसे नेहरू से जुड़े अनेक किस्से हैं जो आज भी रहस्य है।

नेहरू की बेटी इन्दिरा गॉंधी का रविन्द्र नाथ टैगोर के आश्रम में और फिर प्रधानमंत्री रहते हुए मो0 यूनुस की बात सामने आयी, जिसकी पुष्टि इन्दिरा गॉधी ने नहीं की। चर्चा तो यहॉं तक रहीं कि संजय गॉधी और उनकी मॉं के बीच इसी बात को लेकर शीत युद्ध था जो बाद में संजय गॉधी की मौत के बाद समाप्त हुआ।

सेक्स स्केण्डल की घटनाओं में भारतीय राजनीतिज्ञों की चर्चा जोर-शोर से होती है। वहं बॉलीवुड के सेक्स स्केण्डल चटखारे किस्से-कहानियों में दब जाते है। ऐसे ही कॉंग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गॉधी के अमेठी के पुराने कॉंग्रेसी नेता की बेटी सुकन्या देवी व केरला के भी किस्से आये जो राहुल ने कहा यह सच नहीं है पर चर्चा उड़ती रही, आज भी जिन्दा है।

वर्ष 2003 में उ0प्र0 के ब.स.पा. मंत्री अमरनाथ त्रिपाठी को मधुमिता मर्डर केस में घेरा गया। आरोप था कि मधुमिता ने अजन्मे बच्चे को गिराने से मना कर दिया था जोकि कहा जाता है कि अमरनाथ त्रिपाठी के अवैध सम्बन्ध से था। वर्ष 2005 में भा.ज.पा. के सिल्वर जुबली आयेाजन के समय महासचिव व संघ प्रचारक संजय जोशी का भी एक सेक्स स्केण्डल में नाम आया। इस वी.सी.डी. को ख्ूाब प्रचारित किया गया, जिसमें इन्हें एक महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा गया था। वर्ष 2011 में राजस्थान के ताकतवर जल संसाधन मंत्री महिपाल मदरेणा ने राजस्थान राजनीति में भॅंवरी प्रकरण में फंॅस कर उथल-पुथल मचा दी।

अशेाक गहलोत की सरकार को करारा झटका लगा। नर्स भॅंवरी के गायब होने पर उसके पति ने गुहार लगायी कि मदरेणा ने गायब कराया है। सेक्स सी.डी. पर सी.बी.आई. ने जॉच की तब पूरा मामला खुला। जब इसकी जॉच हुई तो मदरेणा के पास से 150 सी.डी., लाखों की नकदी व जेवरात आदि मिले। भॅंवरी को मारने के लिए 50 लाख रूपये श्ूाटर शहाबुद्दीन को दिये थे। सहीराम महिपाल नाम का व्यक्ति भी इस प्रकरण में सामने आया जो सी.डी. से जुड़ा बताया गया था और मदरेणा को ब्लैकमेल करना चाहता था।

भॅंवरी राजनीति कामयाबी के शिखर पर पहॅंुचने के लिये इन नेताओं के चंगुल में फंस गयी थी। वर्ष 2012 में कॉंग्रेस के नेता राज्य सभा सांसद अभिषेक मनु सिंधवी देश के जाने माने वकील भी थे। सुप्रीम कोर्ट परिसर चेम्बर में रंगरेलियां मनाते सी.डी. में पाये गये। उनका ड्ऱाइवर मुकेश जिसने इनकी फिल्म बनायी थी और इन्हें ब्लैकमेल कर रहा था उससे खुलासा हुआ। बाद में सिंधवी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता व चैयरमैन पदों से इस्तीफा दिया। 2013 राजस्थान के मंत्री बाबू लाल नागर एक महिला को नौकरी देन@<ा वाद कर उसके साथ गलत किया। इस बात को लेकर राजस्थान की राजनीति में भूचाल आ गया था। उस महिला को चुप रहने के लिए धमकाया गया, ऐसा आरोप था। नागर ने दुःखी होकर इसे गन्दी राजनीति मानते हुए इस्तीफा दिया था तथा इसे गलत बताया। वर्ष 2014 में हरियाणा के एक मंत्री गोपाल काडा ने एयर होस्टेज गीतिका शर्मा को सेक्सुअल हेरेसमेन्ट किया था।

उस लड़की ने आत्महत्या कर ली थी। बाद में बेल के बाद चार्ज से मुक्त किया गया। कॉंग्रेस के 49 वर्षीय दिग्विजय सिंह सेक्स स्केण्डल में अमृता का नाम आया इस खुलासे के बाद शादी में तब्दील हो गया। वरिष्ठ कांॅगेस नेता नारायण दत्त तिवारी का सेक्स स्केण्डल भी दो बार सुर्खियों में आया, एक बार जब वो ऑध्र प्रदेश के राज्यपाल थे और दूसरी बार उज्जवला शर्मा के पुत्र को नहीं अपना रहे थे। इसी तरह भा.ज.पा. के विधायक ध्रुव नारायण, उत्तराखण्ड के मंत्री हरक सिंह रावत, बिहार के साधू यादव, केरला के मंत्री पी.के. कुनहलिकुट्टी, बिहार के निवासी डिप्टी प्राइम मिनिस्टर जगजीवन राम के पुत्र सुरेश राम, म0प्र0 के मंत्री राघव जी लक्ष्मी सावाला, आदि के नाम हैं जो सेक्स स्केण्डल में फॅंसे थे। उ0प्र0 की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती, कॉंग्रेस से सांसद रहे बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन का नाम भी पुराने किस्सों को लेकर उड़ाया गया पर सच्चाई सामने नहीं आयी।

आप पार्टी के पूर्व मंत्री संदीप कुमार की सी.डी. आज चर्चा में है पर अगर राजनीतिक सेक्स स्केण्डल इतिहास देखा जाये तो काफी लम्बी लिस्ट है। शायद पन्ने खत्म हो जायेंगे पर इनकी लिस्ट नहीं। गन्दी, ओछी, घिनौनी व सेक्स से भरपूर राजनीति का ये एक चेहरा है जो आज समाज के सामने है। इन चेहरों जनता अब भी नहीं समझी तो देश तो गर्त में जाना तय है। जब कानून बनाने वाले ही कानून तोड़ने लगे तो रक्षा कौन करेगा।
लेखक -अरूण सिंह चन्देल






Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com