Home > India > हिसाब मांगने पर लोगों को बताया जा रहा साई विरोधी

हिसाब मांगने पर लोगों को बताया जा रहा साई विरोधी

According to people being told to ask anti Saiसिवनी – इन दिनों सोशल मीडिया पर साई बाबा के नगझर और नागपुर रोड स्थित मंदिर को लेकर जमकर बहस छिड़ी हुई है। नगझर और नागपुर रोड स्थित साई मंदिर का हिसाब मांगने पर कुछ लोगों के द्वारा जो हिसाब मांग रहे हैं उन्हें साई का विरोधी करार देने का कुत्सित प्रयास तक किया जा रहा है।

सोशल मीडिया व्हाट्स एप पर सिवनी के निवासी कुछ लोगों के द्वारा अपने-अपने समूह बनाए गए हैं, जिनमें समूह के एडमिन द्वारा अनेक लोगों को इसका सदस्य बनाया गया है। सोशल मीडिया पर इस तरह के समूहों में जब लोगों के द्वारा दोनों साई मंदिरों का हिसाब मांगा जाता है तो हिसाब मांगने वालों को साई बाबा का विरोधी करार दिए जाने के कुत्सित प्रयास किए जा रहे हैं, जिसकी निंदा की जा रही है।

साई मंदिरों का हिसाब मांगने वालों का कहना है कि दोनों ही साई मंदिरों के प्रबंधन को साई भक्तों द्वारा दान में दी गई नकद राशि, सोना चांदी एवं अन्य दान को सार्वजनिक करने में दिक्कत क्या है? ज्ञातव्य है कि इसके पूर्व भी अनेक लोगों जिनमें अधिवक्ताओं की तादाद अधिक थी, के द्वारा साई मंदिरों (नगझर एवं नागपुर रोड) का हिसाब सार्वजनिक किए जाने की मांग की गई थी।

सोशल मीडिया पर लोगों के द्वारा हिसाब मांगने का सिलसिला जैसे ही आरंभ हुआ वैसे ही कुछ लोगों के द्वारा हिसाब मांगने वालों को साई का विरोधी निरूपित करने का प्रयास किया गया। इस मामले में कुछ व्यक्तिगत टिप्पणियां भी की गईं जिसकी शिकायत का आवेदन भी जिला पुलिस अधीक्षक को दिया गया है।

 लोगों के द्वारा सोशल मीडिया पर यह बात भी लिखी जा रही है कि जोश में होश न खोया जाए, एवं व्यक्तिगत दुराग्रह वाली टिप्पणियों से बचा जाए। इसके बाद भी अनेक लोगों के द्वारा इस तरह की नसीहतों को दरकिनार कर व्यक्तिगत रूप से टिप्पणियों का सिलसिला जारी रखा गया है।
रिपोर्ट :- अखिलेश दुबे

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com