Home > India > मुस्लिम समाज बेटियों को तालिम से जोड़े : मेहरूनिसा

मुस्लिम समाज बेटियों को तालिम से जोड़े : मेहरूनिसा

Add to educated Muslim daughters Mehrunisaबाड़मेर : मुस्लिम समाज अधिकाधिक बेटियां को शिक्षा से जोड़े। दूरस्थ इलाके में बालक एवं बालिकाआें को शिक्षा से जोड़ने के लिए मदरसे के साथ सीनियर सैकंडरी विद्यालय का संचालन करने का सराहनीय कार्य किया गया है। इसकी बदौलत दीनी के साथ दुनियावी तालिम से जुड़ने का सुनहरा मौका मिल रहा है। राजस्थान मदरसा बोर्ड की अध्यक्ष  मेहरूनिसा टाक ने यह बात रविवार को सूजो का निवाण मदरसा एवं सीनियर सैकंडरी स्कूल में छात्रावास के शुभारंभ तथा दरगाह शरीफ के सालाना उर्स के अवसर पर कही। छात्रावास का निर्माण मौलाना आजाद एज्यूकेशन फाउंडेशन, अल्प संख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार, स्थानीय जन प्रतिनिधियां तथा मुस्लिम समाज के सहयोग से किया गया है।

इस दौरान राजस्थान मदरसा बोर्ड की अध्यक्ष  मेहरूनिसा टाक ने कहा कि सरहद पर इस तरह के कौमी एकता के जलसे के साथ गरीब तबके को शिक्षा से जोड़ने के प्रयासां को लेकर मदरसा बोर्ड की तरफ से हरसंभव मदद की जाएगी। उन्हांने कहा कि शिक्षा ही विकास का मूल मंत्र है। उन्हांने कहा कि मुस्लिम समाज के बालक-बालिकाएं उच्च शिक्षा प्राप्त करने के साथ प्रतियोगी परीक्षाआें में भी शामिल हो। उन्हांने सूजो का निवाण में पीर सैय्यद गुलाम हुसैन शाह जीलानी की ओर शिक्षा के क्षेत्र में किए गए प्रयासां का जिक्र करते हुए कहा कि यहां आने वाले समय में विश्व विद्यालय स्थापित करने की दिशा में कार्य किया जाए।

मदरसा बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती टाक ने कहा कि यह बेहद खुशी की है कि बेटियां के साथ बहुएं भी तालीम से जुड़ रही है। उन्हांने मदरसों के पुलिस सत्यापन के मामले में कहा कि यह महज सत्यापन की कार्रवाई है। राज्य सरकार की ओर से पुलिस विभाग को पाबंद किया गया है कि सत्यापन को लेकर किसी मदरसा संचालक को परेशान नहीं किया जाएगा। उन्हांने इस दौरान मदरसे एवं विद्यालय के लिए कंप्यूटर लेब, आधुनिक भोजनशाला एवं खेल मैदान के लिए मदरसा बोर्ड की ओर से यथासंभव मदद का भरोसा दिलाया। इससे पहले कार्यक्रम की शुरूआत में मदरसा बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती मेहरूनिसा टाक ने फीता काटकर छात्रावास का शुभारंभ किया। इस अवसर पर संस्था संचालक पीर सैय्यद गुलाम हुसैन शाह जीलानी, पीर सैय्यद असरफ शाह जीलानी, सचिव अब्दुल रशीद,राजस्थान मुस्लिम वक्फ बोर्ड के सदस्य अफरोज जैदी, सेड़वा प्रधान पदमाराम मेघवाल, पूर्व उप जिला प्रमुख गफूर अहमद, सुखराम विश्नोई, हरीराम, देदाराम, भरतदान, एम.आर.गढवीर, कारूखान भंवार, सैयद रमजान अली समेत कई जन प्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

इस दौरान पीर सैय्यद गुलाम हुसैन शाह जीलानी ने कहा कि बाड़मेर जिले में मदरसे मुस्लिम समाज को शिक्षा से जोड़ने के लिए सराहनीय कार्य कर रहे है। उन्हांने कहा कि सारे मदरसे मुल्क के वफादार है। उन्हांने हिन्दी है हम वतन हिन्दुस्तान हमारा का नारा देते हुए कहा कि जिले में मदरसां एवं मस्जिदां में किसी भी तरह की देश विरोधी गतिविधियां नहीं पाई जाती है। वे कौमी एकता को बढ़ावा देने के साथ तालीम से जोड़ने का कार्य कर रहे है। इसमें छतीस कौम की भागीदारी देखी जा सकती है।

समारोह के दौरान सेड़वा प्रधान पदमाराम मेघवाल ने कहा कि पिछड़े क्षेत्र में दीनी एवं दुनियावी तालीम से जोड़ने के लिए मदरसा निर्माण के जरिए शानदार प्रयास किया गया है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज को विकास की मुख्य धारा में शामिल होने के लिए शिक्षा से जुड़ना होगा। उन्हांने कहा कि जो भी बच्चे शिक्ष से वंचित है उनको शिक्षा से जोड़ा जाए।

समारोह की शुरूआत में संस्थान के सचिव अब्दुल रशीद ने मदरसा बोर्ड अध्यक्ष श्रीमती मेहरूनिसा टाक का चूनड़ी ओढाकर स्वागत किया। उन्हांने संस्थान के गठन से अब तक की विभिन्न गतिविधियां के बारे में विस्तार से जानकारी दी। मदरसा बोर्ड अध्यक्ष ने सूजो का निवाण प्रवास के दौरान मदरसा एवं विद्यालय परिसर, कंप्यूटर लेब का निरीक्षण किया। साथ ही रोजगारपरक लघू अवधि कौशल कार्यक्रम का अवलोकन कर अधिकाधिक लोगां को इससे लाभांवित करने के निर्देश दिए। उन्हांने पीर सैय्यद कुत्बैआलम शाह जीलानी की दरगाह एवं मां साहिबा किबला की मजार पर अकीदत के फुल अर्पित किए। कार्यक्रम का संचालन गुलाम रसूल टाक ने किया। इस दौरान भारी तादाद में जायरीन उपस्थित रहे।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com