Home > Careers > ऑॅक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी : हर छात्र के पढ़ने का सपना

ऑॅक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी : हर छात्र के पढ़ने का सपना

Oxford University

Oxford University

ऐसा कौनसा छात्र है जो ऑॅक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने का सपना नहीं देखता। दुनियाभर के छात्रों की तो यह पहली पसंद में से एक है। यह संस्थान ग्रेट ब्रिटेन की शान तो है ही साथ ही यह विश्व के प्राचीनतम विश्वविद्यालयों में से एक है जिसने बड़े-बड़े दार्शनिक, समाज सेवा, विचारक और वैज्ञानिक इस संसार को दिए। ब्रिटेन के दो पूर्व प्रधानमंत्री माग्र्रेट थ्रेचर, टोनी ब्लेयर तथा कभी बहुत ज्यादा अखबारों की सुर्खियों में रहे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भी इसी यूनिवर्सिटी के छात्र रहें हैं। तभी तो इसको ’सपनों का शिखर’ के नाम से जाना जाता है।

सन् 1998-99 में इस विश्वविद्यालय में 130 देशों के 16185 अंतरराष्ट्रीय छात्र थे जिनमें 4,816 सिर्फ पीजी पाठयक्रम में थे। यहां पुरुष एवं महिला छात्रों का औसत अनुपात 58ः42 है। इस यूनिवर्सिटी में लगभग 39 कालेज हैं जो अपने-अपने क्षेत्र में विश्वविख्यात है। यहां पर सबसे पहले कालेज की स्थापना सन् 1249 में। यूनिवर्सिटी ऑॅक्सफोर्ड शहर के मध्य में स्थित है और हरियाली से इस तरह घिरी है कि पता नहीं चलता कि वहां पर कोई यूनिवर्सिटी है।

यूनिवर्सिटी की इमारत इतनी खूबसूरत है कि वह दूर से देखने पर पर्यटन स्थल या एतिहासिक इमारत का अहसास कराती है। ऑॅक्सफोर्ड शहर विभिन्नताओं से भरा है वहां कई संस्कृतियां मिलजुल कर रहती हैं, जिसका मुख्य कारण वहां के अंतरराष्ट्रीय छात्र हैं। इसके साथ-साथ यह शहर बड़े-बड़े उद्योगों से भी जुड़ा है। यहां का मोटर उद्योग (इस शताब्दी की शुरुआत में काउले के पसा लार्ड नुफील्ह ने मोरिस मोर्टस की स्थापना की थी) तो इस तरह शहर की जान है। शायद आपको विश्वास नहीं होगा कि यह शहर कैंब्रिज की अपेक्षा अधिक शांत और व्यवस्थित है।

ऑॅक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की सभी फैकल्टियां तो लाजवाब है जिसके बारे में आपको इसके पाठयक्रमों, यहां के छात्र तथा इसकी पढ़ाई के स्तर को देखकर सहजता से ही अंदाजा लग सकता है। यहां की फैकल्टी विश्वस्तरीय है जिसके कारण कई बार विश्वविद्यालयों की सूची में यहां के विभागों को सर्वोच्च स्थान मिल चुका है, कई नोबल पुरस्कार यहां के शोधकर्ताओं को मिले हैं। यहां पढ़ाई के लिए अत्याधुनिकतम तकनीक का प्रयोग किया जाता है।

यहां पर प्रवेश के लिए आप सिधे ही यूनिवर्सिटी को आवेदन भेज सकते हैं। लेकिन आवेदन पत्र भेजने से पहले अपने आवेदनपत्र की अच्छी तरह से गहन जांच कर लें, मसलन अपनी शैक्षिक योग्यता, कोर्स के बारे में जानकारी आदि होना आवश्यक है। यहां अंडरग्रेजुएट कोर्स के लिए प्रवेश साल के अंत में 15 दिसंबर तक होते हैं।

प्रवेश प्रक्रिया –
पोस्टग्रेजुएशन के लिए द्वितीय श्रेणी में ऑॅनर्र्स डिग्री का होना आवश्यक है। तथा इसके अतिरिक्त आपकी शैक्षिक पृष्ठभूमि अच्छी रही हो।
इंग्लिश स्कोर – पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स के लिए आईईएलटीएस में 7.5 या टॉफेल में 600 स्कोर किया हो।
फीस – क्लास रूम कोर्स-6,684, पौंड प्रति वर्ष, लेबोरेट्री कोर्स- 8,910 पौंड प्रतिवर्ष क्लीनिकल कोर्स – 16,337 पौंड
प्रतिवर्ष अंडरग्रेजुएट कोर्स 3,235 पौंड प्रतिवर्ष, पोस्टग्रेजुएट कोर्स 1,650 पौंड प्रतिवर्ष
स्कॉलरशिप – अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए वहां पर स्कॉलरशिप की सुविधा भी उपलब्ध है जो सिर्फ चुने हुए छात्रों के लिए है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com