Home > Crime > अपहरण के बाद गुप्तांग में मारा, मरा समझकर छोड़ा

अपहरण के बाद गुप्तांग में मारा, मरा समझकर छोड़ा

डिंडौरी: पुजारी राजेंद्र प्रसाद तिवारी व उसके चचेरे भाइयों का विवाद हुए अभी कुछ महीने ही बीते है और फिर चचेरे भाइयों ने दोबारा हमला कर दिया। सगे चाचा के बेटों ने इस बार हत्या का प्रयास किया और डुगंरिया के जंगल में मरा समझकर फेंक दिया।

जैसे ही पुजारी को लोगों ने जंगल में बेहोशी की हालत में देखा तो तुरंत परिवार वालों को सूचित किया। मौके पर पहुंचे परिवार वाले पुलिस को सूचना देते हुए समनापुर स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया।

क्या है पूरा मामला
समनापुर थाना अंतर्गत डुगंरिया में रहने वाले लोचन तिवारी का 34 वर्षीय बेटा राजेंद्र है। जो उस समय गायब हो गया था, जब वह सोमवार को अपनी बहन को पड़ोसी गांव मानिकपुर सरई में छोड़कर रात ८:३० बजे घर लौट रहा था तभी आपसी रंजिश के चलते गांव के करीब ही चचेरे भाई तथा उनके अन्य साथियों ने बाईक सवार राजेंद्र को रास्ते में रोककर रस्सी से बांध लात घूंसों से मरा जिससे पुजारी के गुप्तांग में चोट आई और वो बेहोश हो गया। करीब १० हमलावरों ने राजेन्द्र को चोटिल कर मरा समझ जंगल में फेक दिया था।

समनापुर पुलिस व बजाग पुलिस रात भर चप्पा चप्पा तलाशते रहे पर सफलता नहीं मिली

ग्रामीणों ने किया चक्का जाम

फरियादी व ग्रामीणों की माने तो आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई में ढुलमुल रवैया तथा पुलिस के द्वारा अभद्र व्यवहार गाली गलौज किया गया। जिसके कारण मार्ग अवरुद्ध करना पड़ा।

ग्रामीणों द्वारा मार्ग अवरुद्ध किए जाने की सूचना समनापुर थाना प्रभारी गिरवर सिंह उइके ने उच्चाधिकारियों को दी। सूचना मिलते ही SDOP भगत सिंह गौठरिया तथा नायब तहसीलदार गिरीश धुलेकर मौके में पहुंचकर उग्र हो रहे ग्रामीणों को शांत कराया तथा आरोपियों पर उचित कार्रवाई करने की बात कही है।

पुलिस के मुताबिक
फरियादी राजेंद्र तिवारी निवासी डोगरिया दि 2/10/17 को सरई मानिकपुर से डुगरिया समनापुर आ रहा था तभी डुगरिया तिगड्डा से (आरोपी ) राजेश तिवारी, पंकज तिवारी, रिंकू@नागेन्द तिवारी, छोटू दीपांशु तिवारी एवं अन्य 6 लोगो द्वारा अपहरण कर हाथ पैर बांधकर मारपीट कर नौ हजार पांच सौ रुपये लूट डुगंरिया के नजदीक सिद्ध टेकरी जंगल में फेंक कर चले गए थे । रिपोर्ट पर अप क्र॰ 473/17 धारा 365 ,395, 397 ,भादवि का दर्ज कायम कर विवेचना में लिया गया है ।

आरोपी रोशन तिवारी, पंकज तिवारी एवं अन्य तीन को अभिरक्षा में लेकर पुंछतांछ की जा रही हैं ।

फरियादी एवं आरोपी गणो का पूर्व से मात्र विधुत कनेक्शन को निकाल कर बेच देने की बात से विवाद चल रहा है। दोनों पक्षों के विरुद्ध पूर्व से ही अपराध दर्ज है ।

@दीपक नामदेव

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .