हर विधानसभा चुनाव में चांदी की सड़क, सरकार लम्बी चली तो सोने की - Tez News
Home > State > Chhattisgarh > हर विधानसभा चुनाव में चांदी की सड़क, सरकार लम्बी चली तो सोने की

हर विधानसभा चुनाव में चांदी की सड़क, सरकार लम्बी चली तो सोने की

ajit jogiरायपुर- पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने रविवार को बेमेतरा जिला के साजा विधान सभा के थानखम्हरिया में सभा ली। करीब 40 मिनट तक वे बोले। इस दौरान उनके निशाने पर राज्य सरकार व नेता प्रतिपक्ष रहे। जोगी ने कहा कि अब आम जनता की सरकार बनेगी और राज्य सेल्स टैक्स मुक्त होगा। प्रत्येक विधानसभा में समृद्धि सूचक 25-50 मीटर चांदी की सड़क बनाई जाएगी।

सरकार लंबी चली तो सोने की सड़क भी होगी। सभा के दौरान उन्होंने साजा के पूर्व विधायक रविन्द्र चौबे का जिक्र तक नहीं किया। सभा में कांग्रेस का कोई भी बड़ा नेता नजर नहीं आया। थानखम्हरिया में दोपहर तीन बजे पहुंचे अजीत जोगी का उनके समर्थकों ने भव्य स्वागत किया। सभा में जोगी ने लोगों से कहा कि प्रदेश के लबरा राजा ने आप लोगों को ठगा है।

आपकी जानकारी के बिना आपके खाते से राशि निकाल ली। पिछले वर्ष 500 करोड़ तथा इस वर्ष 500 करोड़ लबरा के पॉकिट में चले गए। रोज कमाने खाने वालों गरीब किसानों, मजदूरों को अनेक जगह से दो साल की मनरेगा मजदूरी नहीं मिली है। यहां की धरती में सोना, हीरा, कोयला, बाक्साइट, लाइम स्टोन के खदान 40 प्रतिशत भूभाग में जंगल में जिसमें सरई, सागौन, बीजा जैसी इमारती लकड़ियां अनेक नदियां, धान का कटोरा होने के बावजूद हिन्दुस्तान की सबसे अमीर धरती के निवासी गरीब हैं।

यहां अनाज का इतना उत्पादन है कि पूरे दो साल तक हिन्दुस्तान को खिला सकते हैं। जोगी ने कहा कि राज्य में नौकरशाही हावी है। अधिकारियों-कर्मचारियों का राज चल रहा है। अब छग की नीतियां बनवाने दिल्ली का चक्कर नहीं लगाना है। सारे निर्णय छग में ही लिए जाएंगे।

विकास का दावा

जोगी ने कहा कि हम सरकार बनाएंगे तो यह राज्य सेल्स टेक्स मुक्त राज्य बनेगा। उड़ीसा, महाराष्ट्र, तेलंगाना, मध्यप्रदेश के व्यापारी यहां व्यापार करने आएंगे। यहां अदानी, अंबानी को बुलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हर विधानसभा में समृद्धि सूचक 25-50 मीटर चांदी की सड़क बनाई जाएगी। सरकार लम्बी चली तो सोने की सड़क भी।

तो आफत आ जाएगी

जोगी ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को मालूम है मैंने विपक्ष का धर्म निभाया तो आफत आ जाएगी। लबरा राजा की सरकार ने 1500 करोड़ रुपए की जमीन नेता प्रतिपक्ष को दी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी लाभान्वित हुए। पाइप खरीदी मामले में भारी गोलमाल किया है। गलत तरीके से जमीन हथियाकर दो मंजिला इमारत बनाई गई है।

चौबे पर वार नहीं

संभावना थी कि जोगी अपने लच्छेदार भाषणों में पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे पर कटाक्ष करेंगे। लेकिन अपने घंटे भर के भाषण में उन्होंने चौबे के लिए एक शब्द भी नहीं कहा। आज सभा में बेमेतरा की पूर्व नपा अध्यक्ष प्रभा निर्वाणी सहित दुर्ग, भिलाई, बेमेतरा, अहिवारा, परपोड़ी, साजा के समर्थक उपस्थित थे।

यह थे मौजूद

कार्यक्रम के प्रारंभ में मूलचंद निर्मलकर, राजकमल सिंह राजपूत, जितेन्द्र सिंह, सुनील टंडन, मनोज नेताम, जगदीश मस्तके, राजेन्द्र पटेल, संतोष वर्मा, लोकनाथ सिन्हा, कन्हैया निर्मलकर, रोहित मांडले, रामराज वर्मा, गोपाल वर्मा, जहीर खान, संतोष वर्मा, सुशील बांगली न पुष्पहार से स्वागत किया। मूलचंद निर्मलकर, राजकमल सिंह राजपूत, राजेन्द्र पटेल तथा जितेन्द्र सिंह ने भी सभा को संबोधित किया।

पाटन से समर्थक रवाना

पाटन विधानसभा के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी समर्थक जोगी से सागौन बंगले में मुलाकात की। इसके बाद कोटनी में आयोजित ग्राम आवाज कार्यक्रम में शामिल होने कार्यकर्ता रवाना हो गए। जिला पंचयत सदस्य राकेश ठाकुर के नेतृत्व में जोगी से मिलने वालो में राजेन्द्र सोनी, संजय चंद्राकर, रवि सिंगौर, भूपेंद्र चंद्राकर, धर्मेन्द्र साहू, गणपत बघेल सहित अन्य शामिल हैं। सभी समर्थक सागौन बंगला रायपुर से कोटनी के लिए रविवार की सुबह रवाना हुए।

सभा पर रही चौबे समर्थकों की नजर, साजा में जोगी के आने से गरमाई राजनीति

बेमेतरा जिले के साजा विधान सभा क्षेत्र में जोगी के पहुंचने से राजनीति गरमा गई है। आज सभा के दौरान जोगी ने भले ही रविन्द्र चौबे का नाम नहीं लिया परन्तु राजनैतिक गलियारों मे इस बात की जमकर चर्चा है कि कहीं अजीत जोगी के निशाने पर कांग्रेस के दिग्गज नेता तो नहीं हैं। इधर इस आयोजन के दौरान कौन-कौन कांग्रेसी आया, उनकी क्या भूमिका रही इस पर चौबे समर्थक नजर गड़ाए हुए थे।

राजनीति के जानकारों का कहना है कि जोगी के निशाने पर सबसे पहले जहां प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल का नाम आना स्वाभाविक है। उतना ही स्वाभाविक दूसरे नंबर पर साजा के पूर्व विधायक रविन्द्र चौबे का नाम कहा जा सकता है। इसका अंदाजा रविन्द्र चौबे को भी हा गया है। चौबे तथा उनके समर्थक भी अच्छी तरह से भांप रहे थे जिसका ही परिणाम है कि पूरे कार्यक्रम को लेकर चौबे समर्थक पैनी नजर ही बनाए हुए थे।

उक्त कार्यक्रम में कौन कौन शामिल हो रहा है तथा उनकी भूमिका क्या रहेगी। इसके अलावा अब चौबे तथा उनके समर्थकों का ध्यान गांव गांव में कार्यकर्ताओं के साथ बैठने नहीं मान मनौव्वल में ही समय निकल सकता है।

इस बीच जोगी के दूसरे पैतरे का सामना चौबे तथा उनके समर्थको को करना पड सकता है। यही नहीं इस बात से इंकार नहीं कर सकते की पूर्व कार्यकाल में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभाने वाले रविन्द्र चौबे के बारे में भी जोगी कोई पत्ता न खोल दें।

जो मिट्टी की सड़क नहीं बनवा पाए वो चांदी की क्या बनवाएंगे : रमन

सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि कांग्रेस विभाजन की ओर है। हमारी पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ता। हमारे कोई विधायक जोगी के संपर्क में नहीं है। जोगी पहले अपने विधायकों को तो समेट लें। जोगी के चांदी की सड़क बनवाने के बयान पर सीएम ने कहा कि जोगी अपने कार्यकाल में मिट्टी की सड़क तक नहीं बनवा पाए। जो एमपी, एमएलए नहीं रहता, किसी पद में नहीं रहता, वही चांदी की सड़क की बात करता है।

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com