यू पी: मोदी के गोद लिए गांव में हारा BJP प्रत्याशी - Tez News
Home > India > यू पी: मोदी के गोद लिए गांव में हारा BJP प्रत्याशी

यू पी: मोदी के गोद लिए गांव में हारा BJP प्रत्याशी

Modi silent on questions of BJP MP

लखनऊ- उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव और मुंबई में निकाय चुनावों के नतीजे आ रहे हैं। यूपी में सपा को जबरदस्त झटका लगा है। पार्टी के कई मंत्रियों के रिश्तेदार बुरी तरह हारे हैं। वहीं, वाराणसी जिले में बीजेपी को झटका लगा है। यहां मोदी के गोद लिए गांव जयापुर में बीजेपी समर्थित कैंडिडेट रिंकू सिंह की हार हुई है।

वह जिला पंचायत सदस्य पद के लिए खड़े थे। यहां बीएसपी उम्मीदवार गुड्डू तिवारी जीते हैं। दूसरी तरफ, यूपी में पहली बार असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एमआईएम ने खाता खोला है। एमआईएम के सपोर्ट से पंचायत चुनाव लड़े कैंडिडेट्स आजमगढ़ और मुजफ्फरनगर में जीते हैं।

यूपी में जिला और क्षेत्र पंचायत मेंबरों के चुनाव में वोटों की काउन्टिंग अभी जारी है। अब तक क्षेत्र पंचायत (BDC) के 7757 में से 7055 रिजल्ट आए हैं। इसमें से 2006 सदस्य निर्विरोध चुने गए हैं। ओवैसी की पार्टी ने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के गढ़ आजमगढ़ से अपना खाता खोला है। ओवैसी का दावा है कि आजमगढ़ और मुजफ्फरनगर में उनके कैंडिडेट्स ने जीत दर्ज की है।

सीएम अखिलेश यादव के कई मंत्रियों के रिश्तेदार भी चुनावी मैदान में थे। इनमें से कई लोग काउन्टिंग के बाद पिछड़ गए और हार के कगार पर हैं, जबकि कुछ मंत्रियों के रिश्तेदार जीत गए हैं। मैनपुरी में दूसरे फेज के चुनाव के दौरान बूथ कैप्चर करने वाले यूपी सरकार के दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री तोताराम भी हार गए हैं।

> वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष शिशुपाल यादव 200 वोटों से पीछे चल रहे हैं।
> गाजीपुर से मंत्री कैलाश यादव का बेटा वीरेंद्र यादव 899 वोटों से पीछे चल रहा था, उसे जबरन जितवाने का आरोप है।
> जालौन में सपा सांसद डॉ. चंद्रपाल यादव के भाई की पत्नी उमा देवी डीडीसी के चुनाव में 4 हजार वोटों से पिछड़ गई हैं।
> अमरोहा में मंत्री महबूब अली की पत्नी और बेटा काउन्टिंग में आगे चल रहे थे। देर रात के बाद वे पिछड़ गए हैं।
> मेरठ में मंत्री शाहिद मंजूर के बेटे नवाजिश पर फर्जी वोट कराने का आरोप लगा है। हालांकि, नवाजिश ने 800 वोटों के अंतर से चुनाव जीत लिया है। नवाजिश माछरा के वार्ड नंबर 31 से डीडीसी प्रत्याशी थे।
> सीतापुर में राज्यमंत्री रामपाल राजवंशी की दोनों बेटियों को करारी हार का सामना करना पड़ा। वहीं, सपा महिला सभा की प्रदेश अध्यक्ष के पति भी चुनाव हार गए हैं।
> बलरामपुर में जंतु उद्यान राज्यमंत्री डॉ. एसपी यादव की पत्नी, बेटा और छोटी बहू चुनाव मैदान में थीं। तीनों काउन्टिंग में पीछे चल रहे हैं।
> फर्रुखाबाद में भी सपा को झटका लग सकता है। यहां के कायमगंज ब्लॉक में जिला पंचायत की चतुर्थ सीट से अलीगंज विधायक रामेश्र यादव के बेटे सुबोध यादव दो फेज की काउन्टिंग में 353 वोटों से पीछे चल रहे हैं।
> फैजाबाद में कैबिनट मंत्री अवधेश प्रसाद की बीवी और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पिछड़ गई हैं। उनके बेटे अमित कुमार भी पीछे चल रहे हैं।
> संतकबीर नगर में पंचायत वार्ड नंबर 31 से स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्यमंत्री शंखलाल मांझी की पत्नी अंजनी मांझी को भी हार का सामना करना पड़ सकता है। काउन्टिंग में शंखलाल मांझी की पत्नी तीसरे नंबर पर चल रही हैं।
> मेरठ में मौजूदा जिलाध्यक्ष मनिन्दर पाल और उनकी पत्नी सिंपल भी चुनाव हार गई हैं। मनिन्दर पाल सिंह ने वार्ड-6 से चुनाव लड़ा था।
> अमरोहा से क्रिकेटर मोहम्मद शमी के भाई भी चुनाव हार गए हैं।
> बस्ती से कांग्रेस विधायक संजय जायसवाल के भाई राजू जायसवाल भी बीडीसी चुनाव हार गए।
> जौनपुर में सपा जिलाध्यक्ष राजनारायण विंद की बहू प्रीत विंद चुनाव हार गई हैं। इन्होंने वार्ड-39 से चुनाव लड़ा था।
> मेरठ में सपा नेता अतुल प्रधान की पत्नी 5100 वोटों से चुनाव जीत चुकी हैं।
> गोंडा में कैबिनेट पंडित सिंह के भाई की पत्नी बबिता सिंह रिकॉर्ड 18 हजार वोटों से चुनाव जीत गई हैं।
> जालौन से बीजेपी सांसद भानुप्रताप के बेटे जयभान सिंह को भी करारी हार मिली है।

मुंबई में निकाय चुनाव के नतीजों के रुझान
कल्याण-डोंबिवली और कोल्हापुर महानगरपालिका में बीजेपी शिवसेना से पीछे चल रही है।
> कल्याण-डोंबिवली में शिवसेना बढ़त लेती दिखाई दे रही है। कल्याण डोंबिवली की 122 में से 85 सीटों के रुझान सामने आ चुके हैं।
> इसमें से 44 शिवसेना के खाते में गई हैं, जबकि बीजेपी ने 27 सीटों पर जीत दर्ज की है। रुझानों में कांग्रेस 3, मनसे 5 और एनसीपी 2 पर जीतती दिखाई दे रही है। ओवैसी की पार्टी एमआईएम ने यहां 4 सीटें जीत ली हैं।
> कोल्हापुर में कांग्रेस आगे चल रही है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com