समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सीबीआई में जारी घटनाक्रम का जिक्र करते हुए शुक्रवार को आरोप लगाया कि संस्थाओं को खत्म करने का काम सबसे ज्यादा बीजेपी ने ही किया है।

आगे उन्होंने कहा कि ‘आज देश की संस्थाओं पर ताले लग रहे हैं। आखिर कौन सी ऐसी संस्था है जो बची रह गई है। किसी भी सरकार या राजनीतिक दल को संस्थाओं से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।

आप ऐसा करेंगे तो जनता किस पर विश्वास करेगी। संस्थाओं को खत्म करने का काम सबसे ज्यादा बीजेपी ने ही किया है।

उन्होंने सीबीआई में जारी घटनाक्रम की तरफ इशारा करते हुए कहा ‘जिस संस्था के बहाने हमें, आपको डराया जाता था।

सरकारें डराती थीं, आज सोचो सरकार कैसे चुपचाप बैठ गई है। कैसे सरकार के तोते उड़ गए हैं, लेकिन जब से ये ‘सीबीआई से सीबीआई’ में झगड़ा हुआ है, हम तो खुश होकर दो रोटी ज़्यादा खा रहे हैं।

अखिलेश ने कहा ‘देश की एक-एक संस्था पर प्रश्नचिह्न लग रहा है। कौन किसको बचा रहा है। सरकारों ने सीबीआई का गलत इस्तेमाल किया है। उससे बहुत से लोगों को डराया है।’

उन्होंने एक सवाल पर कहा ‘राफेल जैसे इतने बड़े समझौते पर अगर सवाल खड़े हुए हैं तो बीजेपी को सच्चाई के साथ जरूर सामने आना चाहिए।

इस डील का सच जानने के लिए सपा ने संयुक्त संसदीय समिति के गठन की मांग की है। अगर यह समिति बन गई तो जनता को बहुत से सवालों का जवाब मिल जाएगा।’