अल्बानिया में विरोध जताने का एक अलग ही उदाहरण देखने को मिला। यहां प्रधानमंत्री एडी रामा जब गुरुवार को संसद में भाषण दे रहे थे तब एक सांसद एंड्री हासा ने उनके ऊपर अंडे फेंक दिए।

विपक्षी नेता विश्वविद्यालयों की फीस बढ़ाने के खिलाफ संसद में विरोध कर रहे थे। सांसद की इस हरकत के बाद गार्ड्स ने उसे संसद से बाहर निकाल दिया।

घटना के बाद स्पीकर ने सांसद पर 10 दिनों तक संसद में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

विपक्षी पार्टी डेमोक्रेट ने अपने सांसद का बचाव करते हुए कहा कि वह विश्वविद्यालयों की बढ़ी फीस के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन का समर्थन करते हैं।

अल्बानिया के पूर्व प्रधानमंत्री और विपक्षी दल के नेता ने घटना के बाद फेसबुक पर विपक्ष की तरफ से पीएम रामा को दिया गया क्रिसमस और नए साल का ग्रीटिंग कार्ड करार दिया।

अल्बानिया में इस समय महंगी पढ़ाई को लेकर छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। संसद से बाहर निकलने पर पीएम एडी रामा ने घटना को लेकर ट्वीट करते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया।

उन्होंने विपक्ष पर अभद्र टिप्पणी की। ट्वीट में रामा ने लिखा, ‘छात्रों की मांग को लेकर विपक्ष को सरकार से चर्चा करनी चाहिए। उन्होंने यहां टकराव के हालात पैदा कर दिए हैं।’