Home > India > मंडला: 25 छात्रों का AIPMT में हुआ चयन

मंडला: 25 छात्रों का AIPMT में हुआ चयन

In AIPMT 2016 Selected mandala Studentमंडला- आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले के 25 छात्रों ने AIPMT की परीक्षा में डंका बजाकर न सिर्फ प्रदेश में बल्कि पूरे देश में अपना लोहा मनवाया है। संभवतः यह पहली बार है कि किसी जिले से एक साथ 25 छात्रों का चयन AIPMT के लिये हुआ है। हैरान कर देने वाली बात यह है कि चयनित सभी छात्र छात्रा सरकारी स्कूल से हैं और बीपीएल परिवार से ताल्लुक रखते हैं। AIPMT में चयनित 25 छात्रों में तीन छात्र तो विशेष संरक्षित बैगा जनजाति के हैं।

बताया जा रहा है कि देश में पहली बार बैगा जनजाति के छात्र को इस राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षा को उत्तीर्ण करने में सफलता मिली है। वहीँ इस उपलब्धि को लेकर जिले के अधिकारी और जनप्रतिनिधि फूले नहीं समा रहे हैं।

चयनित छात्र छात्राओं की मानें तो AIMPT की परीक्षा पास करना उनके लिये किसी ख्वाब जैसा है क्योंकि उनके पास तो परीक्षा फ़ार्म भरने लिये फीस तक का जुगाड़ नहीं था। ऐसे में जिले के तात्कालीन कलेक्टर लोकेश जाटव और आदिवासी सहायक आयुक्त संतोष शुक्ला ने चंदा कर जिले के सभी सरकारी स्कूलों से सैंकड़ों आदिवासी गरीब छात्रों को AIMPT JEE जैसे प्रतियोगी परीक्षा का फ़ार्म भरवाया था। JEE में भी जिले के 43 आदिवासी छात्र छात्राओं का चयन हुआ है।

तात्कालीन कलेक्टर लोकेश जाटव ने एपीजे अब्दुल कलाम की याद में 100 कलाम और ज्ञानार्जन प्रोजेक्ट की नींव रखी थी जिसके तहत प्रतिवर्ष जिले के 100 गरीब छात्रों को कलाम बनाने का संकल्प लिया गया था। छात्र छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं में तैयारी के लिये विशेषज्ञ शिक्षकों द्वारा निशुल्क कोचिंग, स्मार्ट क्लास, वर्चुअल क्लास, कंप्यूटर शिक्षा, लाइब्रेरी से लेकर तमाम सुविधाएं मुहैया कराई थी। छात्र छात्राओं ने भी मेहनत और लगन से प्रोजेक्ट 100 कलाम की परिकल्पना को पूरा करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। AIPMT में चयनित सभी छात्र समाज की सेवा करना चाहते हैं।

जिले से पहली बार शासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थी AIPMT में चयनित हुये हैं। सभी विद्यार्थी आदिवासी विकास विभाग अंतर्गत संचालित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा 12 वीं में अध्ययनरत रहते हुए AIPMT की परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ.जे.विजय कुमार सभी छात्र-छात्राओं से मिलकर AIPMT.2016 में उत्तीर्ण होने पर बधाई दी गई साथ ही अभिभावकों एवं संस्था प्रमुखों को बधाई दी गई। सभी विद्यार्थियों को तत्काल रजिस्ट्रेशन कराते हुए काउंसिलिंग में उपस्थित होने को कहा गया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा सभी छात्र-छात्राओं को डाॅक्टर की पढ़ाई कैसी करनी हैं के तरीके बताये गये। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास मंडला द्वारा सभी छात्र-छात्राओं एवं उनके अभिभावकों को बधाई देते हुए कहा गया कि काॅलेज में एडवीशन के संबंध में किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो तत्काल अवगत कराने को कहा है।

जिले में शिक्षा गुणवत्ता के प्रयास से मध्यप्रदेश में मंडला जिले से सबसे अधिक 25 छात्र-छात्राओं ने AIPMT की परीक्षा उत्तीर्ण किये हैं। चयनित विद्यार्थियों में इनका हुआ चयन –
रामेश्वर बैगा,
कु.रश्मि धुर्वे (बैगा),
योगेन्द्र कुमार धुर्वे (बैगा),
राजकुमार मरावी,
कु. भारती छांटा,
कु. साधना मरावी,
कु.रश्मि सैयाम,
रोहित कुमार इनवाती,
लोकेश कुमार,
ब्रजेश कुमार,
कु. कामिनी व्यायाम,
कु. सौआत्री सिंह,
प्रदुम पटैल,
योगेश यादव,
कु. रेशमा बेगम,
कु. दीपाली नगपुरे,
शारदा प्रसाद सोनवानी,
दुर्गेश मसराम,
कु. भावना,
हरिसिंह पटैल,
योगेश कुमार सिंगौर,
कु. टीना पटैल,
कु. रामा पटैल,
कु. शालिनी पटैल,
कु. धनेश्वरी शामिल है।

रिपोर्ट- @सैयद जावेद अली




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com