अलवर गैंगरेप पीड़िता को राजस्थान पुलिस में कांस्टेबल की नौकरी दी जाएगी। सीएम अशोक गहलोत की इस घोषणा के बाद गृह विभाग ने सभी औपचारिकताओं को पूरा कर दिया है।

अब जल्द ही सरकुलेशन के माध्यम से कैबिनेट इसे मंजूरी प्रदान करेगी। वहीं आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी गई है।

सीएम की घोषणा के बाद शनिवार को गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने सचिवालय में विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक कर इससे संबंधित तमाम औपचारिकताएं पूरी कर ली।

वित्त और विधि विभाग से मंजूरी मिलने के बाद फाइल को कैबिनेट के पास भेजा गया है। कैबिनेट जल्द ही सरकुलेशन के माध्यम से इसे मंजूरी देगी।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ पेश कर दी है चार्जशीट

वहीं इस मामले में पुलिस ने सभी छह आरोपियों के खिलाफ शनिवार को विशिष्ट न्यायाधीश एससी-एसटी कोर्ट, अलवर में चार्जशीट दाखिल कर दी है।

इनमें पांच आरोपी गैंगरेप के हैं, जबकि एक घटना का वीडियो वायरल करने का आरोपी है।

पुलिस ने इस मामले में अदालत से डे-टू-डे सुनवाई करने का अनुरोध किया है ताकि आरोपियों को जल्द से जल्द सजा मिल सके।