Home > India News > अंबेडकर जयंती: सारे सवालों के जवाब संविधान में – मोदी

अंबेडकर जयंती: सारे सवालों के जवाब संविधान में – मोदी

नागपुर: पीएम नरेंद्र मोदी ने अंबेडकर जयंती पर नागपुर में बोलते हुए कहा कि बाबा साहेब ने ऐसे संविधान का निर्माण किया जिसके तहत सारे सवालों के जवाब संविधान से मिलते हैं। उन्होंने अंबेडकर की दीक्षा भूमि नागपुर को प्रणाम करते हुए कहा कि बाबा साहेब ने विष पिया लेकिन हमेशा अमृत की वर्षा की।

डॉ अंबेडकर ने जातिगत दंश समेत जीवन में कई समस्याओं का सामना किया लेकिन इससे उनके मन में कटुता नहीं आई। यह उनके कार्यों में दिखता है। उनके कार्यों में किसी प्रकार की कटुता या दुश्मनी का भाव नहीं दिखता बल्कि उन्होंने सामाजिक समरसता की भावना को बल दिया। यह उनकी विशेषता थी। उन्होंने इसके साथ ही डिजिधन मेले में शिरकत करते हुए कहा कि डिजिटल करेंसी ही भविष्य है। अब आपका मोबाइल ही आपका एटीएम बन जाएगा। इस संदर्भ में भीम एप गेमचेंजर साबित होगा।

इससे पहले प्रधानमंत्री ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि मैं अंबेडकर जयंती के विशेष अवसर पर नागपुर जाने को लेकर काफी सम्मानित महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा, ‘नागपुर में मैं दीक्षाभूमि पर प्रार्थना करूंगा, जो डॉ अंबेडकर से जुड़ा एक पवित्र स्थान है। ‘

दीक्षाभूमि बौद्ध धर्म से जुड़ा एक महत्वपूर्ण स्थल है, जहां अंबेडकर ने 14 अक्टूबर, 1956 को बौद्ध धर्म स्वीकार किया था. पीएम मोदी ने कहा, हम डॉ अंबेडकर के सपनों का मजबूत, समृद्ध और समावेशी भारत बनाने की दिशा में कठिन प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि नागपुर में कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया जाएगा, जिसका लोगों के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। इन विकास परियोजनाओं में आईआईटी, आईआईएम, एम्स और काराडी थर्मल पावर स्टेशन शामिल है। पीएम मोदी एक सार्वजनिक सभा को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री डिजिधन मेला के समापन कार्यक्रम में भी शामिल होंगे और लकी ग्राहक योजना और डिजिधन व्यापार योजना के विजेताओं को पुरस्कार देंगे।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com