‘मुस्लिम’ पिता-ईसाई मां का बेटा ब्राहम्ण कैसे, मिश्रित नस्ल के हैं राहुल गांधी – केंद्रीय मंत्री

0
15

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ बेहद ही विवादित बयान दे डाला।

हेगड़े ने राहुल को ‘मिश्रित नस्ल’ का बताते हुए कहा कि एक ‘मुस्लिम’ पिता और ईसाई मां का बेटा ब्राह्मण कैसे हो सकता है।

उत्तर कन्नड़ जिले में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए हेगड़े ने कहा, ‘…उन्हें धर्म की कोई समझ नहीं है। देखिए वे कितना झूठ बोलते हैं, पिता मुस्लिम हैं, मां ईसाई हैं, बेटा ब्राह्मण है। ये कैसे हुआ?’

गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘आप दुनिया की किसी प्रयोगशाला में ऐसी मिश्रित नस्ल नहीं बना सकते, यह हमारे देश की कांग्रेस प्रयोगशाला में ही उपलब्ध है’।

हेगड़े के बयान के बाद कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख दिनेश गुंडुराव और उनके बीच ट्विटर पर बहस शुरू हो गई।

गुंडु राव ने ट्वीट कर पूछा था, ‘केंद्रीय मंत्री या सांसद बनने के बाद आपकी उपलब्धियां क्या रही हैं? कर्नाटक के विकास में आपका क्या योगदान है? मैं साफतौर पर ये कह सकता हूं कि ये अफसोस की बात है कि ऐसे लोग मंत्री बन गए हैं और सांसद के रूप में चुने जाने में कामयाब रहे हैं।’

इसके बाद राव पर निशाना साधते हुए हेगड़े ने कहा था, ‘मैं जरूर इस शख्स के सवाल का जवाब दूंगा लेकिन उससे पहले वह कृपया अपनी उपलब्धियों का खुलासा करें? मैं इस शख्स को केवल इस तरह जानता हूं जो एक मुस्लिम महिला के पीछे भागा था।’

पहले भी दिया था विवादित बयान

हेगड़े ने इससे पहले एक कार्यक्रम में विवादित टिप्पणी करते हुए कहा था कि हिन्दू लड़की को छूने वाला हाथ बचना नहीं चाहिए।

इस बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विवादित बयान देने वाले केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े को हर भारतीय के लिए शर्मिंदगी का विषय करार देते हुए सोमवार को कहा कि हेगड़े मंत्री पद के योग्य नहीं हैं और उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए।

गांधी ने एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘यह व्यक्ति (हेगड़े) हर भारतीय के लिए शर्मिंदगी का विषय है। वो केंद्रीय मंत्री पद के लिए योग्य नहीं है और उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने जो खबर शेयर की है उसके मुताबिक अनंत कुमार हेगड़े ने रविवार को कहा कि ‘जो हाथ हिंदू लड़की को छुए वो रहना नहीं चाहिए।’