Vyapam-scamभोपाल – व्यापमं मामले से जुड़े एक और शख्स की संदिग्‍ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मप्र कैडर के रिटायर्ड आईएफएस अधिकारी विजयबहादुर सिंह के साथ हादसा हुआ है। उनकी मौत ट्रेन से गिरने से हुई है। वह व्यापमं के पर्यवेक्षक रह चुके थे तथा उड़ीसा से भोपाल लौट रहे थे।

जानकारी के अनुसार सिंह का शव शुक्रवार को भोपाल लाया गया, यहां उनका अंतिम संस्कार किया गया। सिंह लगभग 65 वर्ष के थे और व्यापमं में तीन वर्ष तक पर्यवेक्षक रहे थे। बताया जाता है कि व्यापमं परीक्षाओं के प्रश्नपत्र तय करने, परीक्षा केंद्रों पर वितरण आदि गोपनीय काम में पर्यवेक्षक की भूमिका भी होती थी । वे 2010 से 13 तक पर्यवेक्षक की भूमिका में रहे हैं।

आरटीआई कार्यकर्ता अजय दुबे ने व्यापमं में गडबड़ियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में जो याचिका लगाई है, उसमें विजयबहादुर सिह समेत अनेक अफसरों के नाम हैं और सिंह की भूमिका पर भी सवाल उठाए गए हैं। दुबे का कहना है कि सिंह से सीबीआई पूछताछ करने ही वाली थी, ऐसे समय में उनकी मौत होना संदेहास्पद है और इसकी बारीकी से जांच होनी जरूरी है।

सिंह अपने बैच के अफसरों के मिलन समारोह में शामिल होने उड़ीसा गए थे और गत दिवस पुरी से ट्रेन में भोपाल के लिए सवार हुए थे। इस बीच झारसुगड़ा और बिलासपुर के बीच ट्रेन से गिरकर उनकी मौत हो गई। उनका परिवार साथ था। सिंह वर्ष 2010 में पीसीसीएफ के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। मप्र कैडर के अनेक आईएफएस अफसर उनकी अंत्येष्टि में शामिल हुए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here