ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भाजपा में शामिल होने को लेकर कहा था कि कांग्रेस पहले की तरह की पार्टी नहीं रह गई है, इसलिए वहां रहकर जनसेवा नहीं हो सकती है। वहीं, हाल ही में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्यसभा सदस्य के तौर पर शपथ ली।

ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने को लेकर कांग्रेसी नेताओं द्वारा लगातार उन पर तंज कसा जाता रहा है। कुछ कांग्रेस नेताओं ने तो सिंधिया को दगाबाज तक करार दिया।

वहीं, नागपंचमी के मौके पर पूर्व पीसीसी चीफ और कांग्रेस के कद्दावर नेता अरुण यादव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को निशाने पर लिया है।


अरुण यादव ने सिंधिया की तस्वीर ट्वीट करते हुए लोगों को नागपंचमी की शुभकामनाएं दी। वहीं, इस तस्वीर पर लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रिया दी।

गौरतलब है कि इसी वर्ष मार्च महीने में पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भाजपा में शामिल होने को लेकर कहा था कि कांग्रेस पहले की तरह की पार्टी नहीं रह गई है, इसलिए वहां रहकर जनसेवा नहीं हो सकती है। वहीं, हाल ही में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्यसभा सदस्य के तौर पर शपथ ली।

इस दौरान सदन में एक दिलचस्प तस्वीर देखने को मिली। दरअसल, अक्सर एक-दूसरे पर बयानों के तीर चलाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह का राज्यसभा में आमना-सामना हुआ। दोनों ही नेताओं ने मास्क पहना हुआ था।

जब दोनों नेता एक-दूसरे के आमने-सामने आए तो दोनों ने एक-दूसरे के सामने हाथ जोड़कर अभिवादन किया।