cm Akhilesh Yadavलखनऊ – औद्योगिक संगठन एसोचैम की रिपोर्ट ने उ0प्र0 के पिछड़ेपन के लिए अखिलेश यादव की समाजवादी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। अखिलेश सरकार के दावों की इस रिपोर्ट के आधार पर खिल्ली उड़ाई गई है। इस रिपोर्ट में प्रदेश की अखिलेश सरकार के शासन में कृषि, उद्योग, सेवाक्षेत्र और गरीबी उन्मूलन में प्रदेश फिसड्डी रहा। ‘राइजिंग यू.पी.’ का सपा सरकार का दावा झूठा साबित हुआ।
 
एसोचैम की रिपोर्ट में उत्तरप्रदेश की निराशाजनक अर्थिक तस्वीर पेश की गई है। प्रदेश का विकास देश के विकास से औसत दर में कम रहा। चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर के साथ 6.7 प्रतिशत के साथ प्रदेश अन्य राज्यों की तुलना में फिसड्डी रहा। उत्तरप्रदेश कृषि में देश में 15वें स्थान पर, औद्योगिक क्षेत्र में 16वें और सेवा क्षेत्र में भी 16वें स्थान पर रहा।
 
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता डा0 मनोज मिश्र ने आरोप लगाया कि प्रदेश के सपाई कुशासन के कारण उ0प्र0 पिछड़ रहा है। डा0 मिश्र ने बताया प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि दर का राष्ट्रीय औसत जहां 5.7 प्रतिशत या वहीं उ0प्र0 में यह 4.5 प्रतिशत ही रहा।
 
डा0 मिश्र ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के द्वारा विकास का ढ़ोल पीटने का परिणाम इस रिपोर्ट में है। प्रदेश में अराजकता, भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद तथा ध्वस्त कानून व्यवस्था के चलते प्रदेश का विकास पिछड़ रहा है। मुख्यमंत्री सहित पूरा मंत्रिमण्डल मौज-मस्ती में व्यस्त है। प्रदेश के विकास की किसी को कोई चिन्ता नहीं है।
रिपोर्ट :-शाश्वत तिवारी 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here