Home > State > Delhi > साइबर अटैक के बाद देशभर में कई एटीएम बंद

साइबर अटैक के बाद देशभर में कई एटीएम बंद

Demo-Pic

पूरी दुनिया पर हुए साइबर अटैक के बाद देशभर में कई एटीएम बंद हो गए हैं. सूत्रों के मुताबिक गृहमंत्रालय ने एडवायजरी जारी कर देशभर में कई एटीएम को बंद करने का फैसला लिया है. भारत सरकार ने एहतियातन ये फैसला लिया है.

रैनसमवेयर वायरस के चलते सरकार ने ये फैसला लिया है. माना जा रहा कि कई संवेदनशील संस्थानों में भी एटीएम लगे हैं. माना जा रहा है कि ऐसी जगहों की संवेदनशीलता के चलते ही सरकार ने ये फैसला लिया है.

रेनसमवेयर यानी फिरौती वायरस से बचाने के लिए देश में एहतियातन कुछ एटीएम को बंद किया गया है. गृह मंत्रालय पूरे घटनाक्रम को नजर बनाए हुए है. पूरी दुनिया में 100 से भी ज्यादा देशों पर रैनसमवेयर वायरस का हमला हुआ है जिसमें हैकर्स किसी कंप्यूटर की फाइल्स को लॉक कर उसे खोलने के बदले फिरौती मांगते हैं.

जानकारों का कहना है कि ये कदम उन एटीएम के लिए उठाया गया है, जहां साइबर सुरक्षा पुख्ता नहीं हैं. आने वाले वक्त में ऐसे एटीएम की पहचान करके वहां साइबर सुरक्षा के पुख्चा इंतजाम किए जाएंगे.

इस बीच रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने भी बैंकों को खास हिदायत जारी की है. आरबीआई ने साफ किया है कि जिन एटीएम नेटवर्क के साफ्टवेयर अपडेट हो चुके हैं उन्हें ही चालू किया जाए. दुनियाभर में ‘वानाक्राई रैंसमवेयर’ की वजह से दुनियाभर में हंगामा है. जिसमें हैक करने के बाद शिकार लोगों से ‘बिटक्वाइन’ के बदले फिरौती मांगी जा रही है.

द इकोनामिक्स टाइम्स के अनुसार एटीएम मशीनें इस मॉलवेयर की आसान शिकार बन सकती हैं. क्योंकि, लगभग सभी विंडोज साफ्टवेयर पर ही चलती हैं. इसके साथ ही देशभर के कुल सवा दो लाख एटीएम में से 60 प्रतिशत एटीएम आउटडेटेड विंडोज एक्सपी पर चल रहे हैं.

ऐसे में आरबीआई का कहना है कि बिना सॉफ्टवेयर अपडेट किए एटीएम चालू न किए जाए. इसके साथ ही जानकारों का कहना है कि एटीएम में कोई डाटा नहीं होता है ऐसे में इसपर उतना खतरा नहीं है. ग्राहकों को डरने की जरूरत नहीं है.

Hundreds of  ATMs shut down across India to escape Ransomware attack

 

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .