Home > Careers > सरकारी दफ्तरों में एक लाख नौकरिया

सरकारी दफ्तरों में एक लाख नौकरिया

job available

केंद्र में मोदी सरकार आने से युवाओं के लिए सच में अच्छे दिन आने वाले हैं। नरेंद्र मोदी सरकार के अगले 100 दिन के अजेंडे में सरकारी दफ्तरों में खाली पड़े पदों को भरने पर जोर रहेगा।

सूत्रों की माने तो अगले एक साल के अंदर कम से कम एक लाख सरकारी नौकरियों यानि बंपर वैकेंसी आने वाली है।

डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल ऎंड ट्रेनिंग (डीओपीटी) ने इसका खाका तैयार कर सभी मंत्रालयों और विभागों से खाली पड़े पदों की डिटेल 15 जुलाई तक हर हाल में देने को कहा गया है।

इसके तुरंत बाद इन्हें भरने की प्रक्रिया भी शुुरू की जाएगी। इसके लिए वैकेंसी मॉनिटरिंग सिस्टम भी तैयार किया गया है।

स्टॉफ सिलेक्शन कमिशन (एसएससी) के ग्रेजुएट लेवल एग्जाम में भी इस बार रेकॉर्ड वेकन्सी हो सकती हैं। यह एग्जाम अप्रैल में होना था, लेकिन लोकसभा चुनावों के कारण टाल दिया गया था। अब इसके अगस्त में होने की संभावना है। सूत्रों के मुताबिक, इसमें 30 हजार से ज्यादा वेकन्सी आ सकती है।

रियल इस्टेट में भी बंपर वैकेंसी

मोदी सरकार रियल एस्टेट सेक्टर में भी युवाओं के लिए अच्छे दिन लाने वाली है। देश के बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने में युवाओं का भी अहम योगदान होगा। इसलिए इस सेक्टर में भी बंपर वैकेंसी की संभावना है। मोदी सरकार के टॉप एजेंडे में साल 2022 तक सभी को आशियाना मुहैया कराना भी शामिल है।

इसके साथ ही साथ 100 नए शहरों के निर्माण को भी सरकार के एजेंडे में शामिल है। देश के बुनियादी ढांचे को सुधारने के लिए राजमार्गो को जोड़ने की भी सरकार की योजना है।

उम्मीद की जा रही है कि आने वाले कुछ सालों में कई बड़े प्रोजेक्ट्स पर काम शुरू होगा। इन प्रोजेक्ट्स को पूरा करने के लिए योग्य पेशेवरों की जरूरत होगी। फलस्वरूप रियल एस्टेट सेक्टर में युवाओं को करियर संवारने का भरपूर मौका मिलेगा। इस सेक्टर में हर लेवल की वैकेंसी आएगी।

 

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com