कर्नाटक में बजरंग दल के 5 कार्यकर्ताओं को एक कैंटीन में आग लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है जिनमें एक नाबालिग भी शामिल है।

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर आरोप है कि इन्होंने एक कैंटीन में आग लगा दी क्योंकि उनको शक था कि इस कैंटीन में बीफ बनाया और सर्व किया जाता है। इन लोगों की गिरफ्तारी हसन जिले के सकलेशपुर में हुई है।

यह घटना 31 जनवरी की है। बताया जा रहा है कि बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने सकलेशपुर स्थत कैंटीन में पहले तोड़फोड़ की फिर उसे आग के हवाले कर दिया।

इसके बाद उन्होंने कैंटीन को चलाने वाली 70 वर्षीय खामुरुनिस्सा नाम की महिला और उनकी बहु को धमकी भी दी। शुरुआती जांच में कैंटीन में बीफ बनने के कोई भी सबूत नहीं मिले हैं।

पुलिस ने नहीं की थी FIR दर्ज – पीड़िता

खामुरुनिस्सा ने बताया, शुरुआत में पुलिस ने मामले की एफआईआर दर्ज करने से से इनकार कर दिया था।

उन्होंने कहा, ‘पुलिस ने हमारी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। हम रात 11 बजे तक इंतजार करते रहे।’ उन्होंने बताया, ‘फिर घटना के एक दिन बाद पुलिस खुद आगे आई और हमे शिकायत दर्ज करने के लिए कहा।’

पुलिस ने इस मामले में जिन पांच लोगों को गिरफ्तार किया है उनमें कार्तिक, दीपू, प्रथप, रघु और एक नाबालिग शामिल है। पुलिस ने इन पांचों पर IPC की धारा 323, 354, 427,436 और 506 के तहत मामला दर्ज किया है।