लॉकडाउन में बैंक घर बैठे ग्राहकों को दे रहा पैसे , ग्रामीण खुश

खंडवा : कोरोना महामारी के चलते पूरा देश लॉकडाउन हैं। जरुरी काम से जाने पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए बार बार कहा जा रहा हैं। लेकिन क्या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो पा रहा हैं ? इस सवाल का जवाब बैंक बैंको के बहार पैसनिकलने के लिए लगी लाइन पर आ कर रुक जाता हैं। बैंक में अभी जनधन खातों और उज्वला योजना में पैसे सरकार ने डालें हैं जिसे निकलने के लिए लोग सोशल डिस्टेंसिंग तक भूल जाते हैं। ऐसे में बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र ने एक कारगर तरीका ढूंढ निकला। जिसके चलते न तो बैंको में भीड़ भी नहीं लगेंगी और लोगों को अपना पैसा समय पर मिल भी जाएगा।

खंडवा के ग्राम पिपलोद में घर घर जा कर लोगों को उनके खाते से पैसे निकल कर देते यह हैं बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र के बैंक मित्र। बैंक ऑफ़ महराष्ट्र ने यह सुविधा इस लिए शुरू की ताकि लॉकडाउन के नियमो का लोग सही से पालन कर सके और बैंको के बहार भीड़ न लगे। बैंक मित्र घर घर जा कर खाताधारकों के हाथ पहले सनेटाइज करवा कर आधार बेस्ड मशीन से पैसे निकल कर दे रहे हैं। ग्रामीण भी इस सुविधा से खुश हैं।

बैंक ऑफ़ महराष्ट्र के अंचल प्रबंधक इंदौर मुकेश उपाध्याय का कहना हैं कि लॉकडाउन के चलते उनके ग्राहक परेशान न हो और बैंकों के सामने भीड़ ना लगे इस लिए यह सुविधा शुरू कि गई हैं। इस योजना में सभी खाताधारक , किसान और व्यपारी शामिल हैं जो अपने पैसे घर बैठे निकल भी सकते हैं और जमा भी कर सकते हैं।