Home > India News > चंदन को भगवा ने मारा, फेसबुक पर महिला अफसर का पोस्ट वायरल

चंदन को भगवा ने मारा, फेसबुक पर महिला अफसर का पोस्ट वायरल

कासगंज हिंसा को लेकर बरेली के डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह की ओर से डाले गए फेसबुक पोस्ट पर विवाद थमा नहीं था कि अब सहारनपुर की महिला अफसर रश्मि वरुण का पोस्ट वायरल हो रहा है। सहारनपुर में डिप्टी डायरेक्टर रश्मि वरुण ने गणतंत्र दिवस के दिन कासगंज सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए 22 वर्षीय चंदन की मौत का जिम्मेदार भगवा रंग को ठहराया है।

उन्होंने लिखा कि चंदन को किसी समुदाय ने नहीं बल्कि भगवा रंग ने मारा। रश्मि ने फेसबुक पर लिखा, ‘तो ये थी कासगंज की तिरंगा रैली… कोई नई बात नहीं है ये, अंबेडकर जयंती पर सहारनपुर सड़क दुधली में भी ऐसी ही रैली निकाली गई थी, जिसमें अंबेडकर गायब थे या कहिए कि भगवा रंग में विलीन हो गए थे। कासगंज में भी यही हुआ, तिरंगा तो शवासन में रहा, भगवा ध्वज शीर्ष (आसन) पर। जो लड़का मारा गया उसे किसी दूसरे-तीसरे समुदाय ने नहीं मारा, उसे केसरी, सफेद और हरे रंग की आड़ लेकर भगवा ने खुद मारा।

जो बताया नहीं जा रहा वो यह है कि अब्दुल हमीद की मूर्ति या तस्वीर पर तिरंगा फहराने की बजाय इस तथाकथित तिरंगा रैली में चलने की जबरदस्ती की गई और केसरिया, सफेद, हरे और भगवा रंग पे लाल रंग भारी पड़ गया।’

जागरण के मुताबिक महिला अफसर ने बरेली के डीएम का भी समर्थन किया। उन्होंने आरवी सिंह के माफी वाला फेसबुक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि सही बात के लिए स्पष्टीकरण देना पड़ता है। रश्मि ने कहा कि सही इंसान को भी माफी मांगनी पड़ रही है। उन्होंने यह भी कहा कि कासगंज में ना तो पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे और ना ही तिरंगा यात्रा रोकी गई।

यह सब वाट्सएप यूनिवर्सिटी का खेल है। अपने पोस्ट पर रश्मि वरुण ने कहा कि इसमें कुछ भी गलत नहीं लिखा। उन्होंने कहा पोस्ट में ऐसी कोई भी बात नहीं लिखी गई जो कि किसी के खिलाफ हो।

उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस मनाने का हक हर किसी को, पहले या बाद में मनाने वाली कोई बात नहीं होती। वाट्सएप पर कोई गलत मैसेज आता है तो उसे रोका नहीं जाता, बल्कि वायरल कर दिया जाता है। ऐसे में ही माहौल बिगड़ता है।

बता दें कि कासगंज में गणतंत्र दिवस के मौके पर सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में 22 वर्षीय चंदन गुप्ता नाम के युवक को गोली लगी थी, जिससे उसकी मौत हो गई थी। वहीं अकरम नाम के शख्स की एक आंख फोड़ दी गई थी।

हिंसा के मामले में अभी तक 118 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। चंदन की हत्या के मुख्य आरोपी सलीम को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com