Home > India News > भोपाल सिमी एनकाउंटर की जांच एसआईटी को सौपी

भोपाल सिमी एनकाउंटर की जांच एसआईटी को सौपी

central-jail-bhopalभोपाल- मध्य प्रदेश पुलिस ने इस मामले की जांच SIT को सौंप दी है। दिवाली की रात भोपाल सेंट्रल जेल तोड़कर भागे सिमी के आठ आतंकियों के एनकाउंटर मामले की जांच अब SIT करेगी। प्राप्त जानकारी अनुसार भोपाल सिमी एनकाउंटर मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है, जिसमें सीआईडी के एसपी अनुराग शर्मा समेत तीन लोग शामिल हैं।

डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला ने मंगलवार को सिमी आतंकियों के एनकाउंटर मामले की जांच के लिए सीआईडी के एसपी अनुराग शर्मा के नेतृत्व में एसआईटी की तीन सदस्यीय टीम गठित की है, जो मामले की जांच कर रिपोर्ट पीएचक्यू को सौंपेगी। गठित टीम ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

आपको बता दें कि सोमवार को हुए एनकाउंटर के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने DG नंदन दुबे को मामले की जांच का ज़िम्मा सौंपा था। इसके साथ ही सीएम के आग्रह पर केंद्र की तरफ़ से NIA जांच की मांग भी मान ली गई थी। NIA की टीम इस मामले की जांच के लिए भोपाल पहुंच कर जांच में जुट गई है।

शिवराज सिंह चौहान से माँगा जवाब
मध्य प्रदेश में जेल से भागने वाले सिमी के आठ संदिग्ध आतंकियों के एकाउंटर में मारे जाने पर उठे सवालों के बाद राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने राज्य सरकार से जवाब मांगा है। NHRC की ओर से इस संबंध में राज्य के चीफ सेक्रेटरी, डीजीपी, डीजी (जेल) और आईजी जेल को नोटिस जारी किया है। आयोग ने सभी से एनकाउंटर और आतंकियों के जेल से भागने को लेकर सवाल पूछे हैं।

विपक्ष ने भी उठाए सवाल
इस मामले में विपक्ष ने भी सरकार को घेरने की कोशिश की है। एनकाउंटर की तस्वीरें और वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस की कार्रवाई पर भी लोगों ने सवाल उठाए हैं। विपक्ष ने एनकाउंटर को फर्जी करार दिया है।

जेल से भागे थे आतंकी
बता दें कि सिमी सदस्यों को पुलिस ने गुनगा थाना क्षेत्र में ईंटखेड़ी गांव के पास एनकाउंटर में ढेर किया था। आतंकी जेल में एक सुरक्षाकर्मी की हत्या करने के बाद फरार हुए थे। मारे गए आतंकियों के नाम- जाकिर हुसैन सादिक, मोहम्मद सलीक, महबूब गुड्डू, मोहम्मद खालिद अहमद, अकील, अमजद, शेख मुजीब और मजीद हैं। [एजेंसी]




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com