Rape Case Latest News

भोपाल – राजधानी भोपाल में आज बुधवार को एक बेहोश युवती को मुम्बई से आ रही पठानकोट एक्सप्रेस से उतार कर हमीदिया अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। युवती की हालत अब पहले से बेहतर है और प्रारंभिक पूछताछ में उसकी शिनाख्त एक बांग्लादेशी युवती के रूप में हुई है।

एसआरपी भोपाल एके गोस्वामी ने बताया कि इस बांग्लादेशी युवती 20 वर्ष के रूप में पहचान हुई है। इस युवती ने पुलिस को बताया है कि उसके साथ मुम्बई स्टेशन के पास उसके साथ चार युवकों ने बलात्कार कर पठानकोट एक्सप्रेस में बैठा दिया था।

युवती के अनुसार बलात्कार के बाद बेहोशी की हालत में थी। पीड़िता युवती के साथ सफर कर रहे दो लोगों ने इस बेहोश युवती के बरे में पुलिस को सूचना दी। आज बुधवार सुबह भोपाल स्टेशन पर जीआरपी पुलिस ने इस युवती को उतार कर हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया।

युवती को 6 साल पहले एक बंगाली युवक द्वारा मुम्बई लाया गया था। बाद में युवक ने पीड़िता को सोनिया नाम की महिला के पास बेच दिया था। सोनिया जो मुम्बई में देह व्यापार का धंधा करती है उसने पीड़िता से लम्बें समय तक देह व्यापार करवाया।

इस दौरान पीड़िता बहुत बीमार हो गई। जिसके बाद इलाके में रहने वाले चार युवकों ने उसको इलाज के बहाने से अपने पास बुलाया और मुम्बई स्थित कल्याण रेल्वे स्टेशन पर युवती के साथ बलात्कार किया। बलात्कार के बाद युवकों पास में खड़ी हुई पठानकोट एक्सप्रेस देखी, साथ ही उन्होंने पीड़िता को उसमें ले जाकर छोड़ दिया।

जब युवती की नींद खुली तो उसने खुद को भोपाल के आसपास के इलाके में ट्रेन में पाया। उसी दौरान ट्रेन में सवार पैसेंजरों की मदद से मामला जीआरपी पुलिस के पास पहुंचा।

गोस्वामी ने बताया कि जानकारी मिलते ही पुलिस ने पीड़िता को हमीदिया अस्पताल में भर्ती करवाया है। जहां उसका उपचार जारी है। उन्होंने आगे बताया कि युवती बंगाली भाषा बोल रही है। जिसके चलते उसे बात करने के लिए कुछ बंगाली लोगों को बुलाया गया है। जिसमें सामने आया है कि पीड़िता बांग्लादेश के अभया नगर इलाके से है। साथ ही उसका पति बांग्लादेश में ही रहता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here