Home > India > राम मंदिर पर साध्वी ऋतम्भरा ने मुसलमानों से ये कहा !

राम मंदिर पर साध्वी ऋतम्भरा ने मुसलमानों से ये कहा !

खंडवा : साध्वी ऋतम्भरा ने खंडवा में राम जन्म भूमि पर बड़ा बयान दिया हैं। साध्वी ऋतम्भरा ने कहा कि राम लल्ला मंदिर आपसी समन्वय से बनाया जा सकता है बशर्ते मंदिर निर्माण में मुसलमान उदारता का परिचय देकर मंदिर निर्माण के लिए आगे आये, नहीं तो सरकार अध्यादेश लाकर मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करे। खण्डवा में एक धार्मिक आयोजन में शामिल होने आई साध्वी ऋतम्भरा ने कहा है की जब तक भ्रूण हत्या और गौ हत्या बंद नहीं होगी देश विकास नहीं कर सकता। साध्वी ने प्रधानमंत्री मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी की जम कर तारीफ भी की।

राम मंदिर निर्माण के लिए लगवाए पोस्टर आजम खान ने 

देश भर में धार्मिक आयोजन के माध्यम से धर्म और देशभक्ति का सन्देश देने वाली साध्वी ऋतम्भरा ने खंडवा प्रवास पर मीडिया से चर्चा की। हमेशा वेबाक बोलने वाली साध्वी ऋतम्भरा ने देश के कई मुद्दों पर अपनी बात रखी राम मंदिर निर्माण को लेकर कहा की अगर आपसी कोई हल नहीं निकलता तो सरकार अध्यादेश लाकर मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करना चाहिए। उन्होंने कहा की राम मंदिर निर्माण के लिए मुसलमानों को उदारता का परिचय देकर आगे आना चाहिए। क्योंकि जमीनों का बटवारा हो सकता है और राम जन्मभूमि जमीन का टुकड़ा नहीं करोड़ो लोगो की आस्था है।

राम मंदिर पर धर्म संसद का फैसला स्वीकार करेंगे : RSS

बंद हो भ्रूण और गौ हत्या

साध्वी ऋतम्भरा ने कहा है की देश में पूर्ण विकास तब तक संभव नहीं है जब तक भ्रूण हत्या और गौ हत्या बंद नहीं हो जाती। यूपी में योगी के मुख्यमंत्री बनने पर उन्होंने तर्क दिया की संत भगवा वस्त्रों में नही होता संत स्वभाव से होता है। उन्होंने कत्लखानों को लेकर किए गए सवाल पर कहा की जो संत करता है उसका अनुकरण सब को करना चाहिए। उन्होंने कहा की आपस की दुश्मनी में किसी को भी हक़ नहीं की वो माँ को तरस दे और गाय हमारी माता है इस लिए पुरे देश में इस पर प्रतिबंध लगना चाहिए। स्वयं के राजनीति आने वाले सवाल पर उन्होंने कहा की राजनीति मेरा विषय नही है। राजनीति को दिशा देना मेरा विषय है।

राम मंदिर पर बोले तोगड़िया इस फार्मूले से निकलेगा हल

प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ

साध्वी ऋतम्भरा से जब प्रधानमंत्री के कार्यो को लेकर सवाल गया तो उन्होंने बड़े ही शायराना अंदाज में अल्लामा इक़बाल का शेर सुनते हुआ कहा हज़ारों साल नरगिस अपनी बेनूरी पे रोती है बड़ी मुश्किल से होता है चमन में दीदावर पैदा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को लेकर देश भर में अच्छा माहौल है उन्होंने कहा कि बड़ी मुद्दत के बाद कोई ऐसा व्यक्ति आया है जिस पपर भरोसा कर सकते है। उन्होंने कहा कि देश में विवादित मुद्दों को जल्द निपटान चाहिए ताकि आपसी के झगडे ख़त्म हो और सब मिल कर देश का निर्माण कर सकें ।

पीएम मोदी राम मंदिर बनाकर दिखाएं- यादव

एंटी रोमियों पर ये बोली 

एंटी रोमियों के सवाल पर साध्वी ऋतम्भरा ने कहा कि सरकार और पुलिस जो काम कर रही है वो काम स्वयं घर वालों को करना चाहिए। माता पिता अगर घर में ही बच्चों को अच्छे संस्कार देंगे तो बच्चे कोई गलत कदम नहीं उठाएंगे। उन्होंने कहा की बच्चों को संस्कार देना भी बड़ा तप हैं। उन्होंने कहा की माता पिता के आचरण उनके बच्चों को प्रभावित करते हैं। हमें बच्चों से पूछना चाहिए की वह चौहराहो पर क्यों खड़े हैं , रात में 10 बजे तक क्यों घर से बहार हैं।

मॉर्डन होने का अर्थ पश्चायत होना नहीं

लड़कियों के छोटे पकडे पहनने के सवाल पर साध्वी ऋतम्भरा ने महाभारत और स्वामी विवेका नन्द का उदहारण देकर कहा कि अर्जुन के सामने उर्वशी ने आकर कहा था की उस से प्रेम करो और संतान उत्पत्ति करो किन्तु अर्जुन ने उर्वशी को जवाब देते हुए साफ इंकार कर दिया था जबकि उर्वशी ने उन्हें धमकी भी दी थी। इसी तरह उन्होंने स्वामी विवेकानंद का भी उदहारण दिया। उन्होंने कहा कि ये संस्कारों को बात है अगर हम स्त्री का नग्न शरीर देख कर भटकेंगे तो हमारा चरित्र ही क्या है। हालांकि उन्होंने कहा कि मॉर्डन होने का अर्थ यह नहीं की हम पश्चायत हो जाए। हमें हमारी संस्कृति के अनुसार आचरण और कपडे धारण करना चाहिए।

रिपोर्ट @ निशात सिद्दीकी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com