मुंबई : महाराष्ट्र की अहमदनगर लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उम्मीदवार सुजय विखे पाटिल एक शव के साथ फोटो खिंचवाने पर विवादों के घेरे में गए हैं।

चुनाव प्रचार के दौरान सुजय एक स्थानीय नेता के घर पर गए थे, जिनका देहांत हार्ट अटैक से हो गया था। यहां सुजय ने उनके शव को माला पहनाते हुए फोटो खिंचवाई, जो किसी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी।

इस फोटो के वायरल होने के बाद लोगों ने सुजय पाटिल को ट्रोल करना शुरू कर दिया। लोगों ने कहा है कि चुनाव के दौरान नेताओं के असली चेहरे उजागर हो जाते हैं। उन्हें किसी की भावनाओं की जरा भी कद्र नहीं होती है। सुजय ने भी यही किया। उन्होंने शव के साथ फोटो खिंचवाई।

वहीं, इस विवाद ने सियासी रंग भी ले लिया है। भाजपा उम्मीदवार सुजय विखे पाटिल की तस्वीर एनसीपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर शेयर की और कहा कि भाजपा उम्मीदवार सुजय विखे पाटिल चुनाव प्रचार के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

आपको बता दें कि सुजय विखे पाटिल कांग्रेस के दिग्गज नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे हैं। जो हाल ही में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं।

उन्हें भाजपा ने अहमदनगर लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है। दरअसल, राधाकृष्ण विखे पाटिल ने अहमदनगर लोकसभा सीट अपने बेटे के लिए छोड़ने का अनुरोध किया था, जिसे मानने से शरद पवार की पार्टी एनसीपी ने मना कर दिया था। इसके बाद सुजय भाजपा में शामिल हो गए थे।