बिना हेलमेट पकड़े गए भाजपा नेता,पुलिस पर झाड़ा रौब - Tez News
Home > India News > बिना हेलमेट पकड़े गए भाजपा नेता,पुलिस पर झाड़ा रौब

बिना हेलमेट पकड़े गए भाजपा नेता,पुलिस पर झाड़ा रौब

bjp-leader-caught-without-helmet-police-bow-and-ask-forgivenessग्वालियर- बिना हेलमेट पकड़े गए भाजपा नेताओं ने अपना रौब झाड़ते हुए थाने पर हंगामा किया। अपने साथियों को बुलाकर दबाव बनाया और पुलिसकर्मी को पैरों में झुकवाकर माफी मंगवाई। इसके बाद ही मामला शांत हुआ। भाजपा नेता का आरोप है कि पुलिसकर्मी ने उसके साथ अभद्रता कर झूमाझटकी की थी। जबकि पुलिसकर्मी का कहना है कि विवाद तो ट्रैफिक पुलिस से हुआ था।

भाजपा नेता थाने पर हंगामा कर रहे थे। मैं अकेला था, इसलिए हंगामा शांत करने माफी मांग ली थी।

भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ओमप्रकाश दनौत गुस्र्वार की दोपहर अपने साथी राकेश के साथ बाइक पर स्टेशन की ओर से फूलबाग की तरफ जा रहे थे।

पड़ाव चौराहा पर सब इंस्पेक्टर निहाल सिंह के नेतृत्व में चेकिंग कर रही ट्रैफिक पुलिस ने भाजपा नेता की बाइक रोक ली। भाजपा नेता बाइक पर हेलमेट नहीं पहने थे। इस पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने चालान भरने को कहा। जिस पर भाजपा नेता ने रौब झाड़ते हुए अपना परिचय दिया। ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने उनकी एक नहीं सुनी और चालान बना दिया। पर भाजपा नेता चालान भरने को अपना अपमान समझते हुए पुलिसकर्मियों से उलझ गए। कुछ देर झगड़ा व झूमाझटकी हुई।

इसके बाद ट्रैफिक पुलिस की सूचना पर पड़ाव पुलिस भाजपा नेता को पकड़कर पड़ाव थाने ले आई। इस पर भाजपा नेता ओमप्रकाश को बुरा लगा। उन्होंने अपने अन्य साथियों को थाने बुला लिया। भाजपा कार्यकर्ताओं के थाने पर पहुंचते ही हंगामा खड़ा हो गया। पड़ाव थाना पर न तो उस समय टीआई थे और न ही अन्य स्टाफ।

थाने में मौजूद प्रधान आरक्षक गंगाराम मामले का सुलझाने बाहर आए तो भाजपा नेताओं ने गंगाराम पर भी आरोप लगाया। साथ ही उन्हें सस्पेंड कराने की धमकी दी। पुलिसकर्मी भाजपा नेता के दबाब में आ गया। उसने भाजपा नेता से पहले माफी मांगी। इस पर भी वह जब शांत नहीं हुआ तो पैरों की तरफ झुककर फिर मांफी मांगी। इसके बाद ही मामला शांत हुआ।

एसपी ने ली प्रधान आरक्षक की क्लास

इस मामले में जब पुलिसकर्मी के माफी मांगने की बात एसपी को पता लगी तो उन्होंने हवलदार को तलब कर लिया। उससे पूछा कि यह कौन सा तरीका है मामला सुलझाने का। हंगामा हो रहा था तो वरिष्ठ अधिकारियांे को क्यों नहीं बुलाया।

सभी को नियम का पालन करना चाहिए

भाजपा नेता हों या आम जनता, सभी के लिए यातायात नियम समान हैं। उन्हें नियमों का पालन करना चाहिए। बिना हेलमेट गाड़ी चलाना गलत बात है। मनीष राजौरिया, जिलाध्यक्ष अजा मोर्चा

चालान करने के बाद ही गाड़ी दी

बिना हेलमेट के बाइक चलाते बाइक सवार पकड़ा गया था। वह खुद को भाजपा नेता बता रहा था। चालान करने के बाद ही गाड़ी छोड़ी गई है।
महेन्द्र कुमार छारी, डीएसपी ट्रैफिक

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com