भिंड में सुरेंद्र के साले की बेटी की शादी थी, जिसमें जाने के लिए पूरा परिवार बीते रविवार को तैयारियां कर रहा था। सुरेंद्र मिश्रा शादी में ले जाने के लिए अपनी बंदूक को साफ कर रहे थे। घर के ऊपरी माले पर मिश्रा रायफल की सफाई कर रहे थे।

ग्वालियर : हथियारों को लेकर जरा सी असावधानी मौत की वजह बन सकती है। इसकी बानगी मध्य प्रदेश के ग्वालियर में देखने को मिली। जहां शादी में जाने के लिए लाइसेंसी राइफल को साफ करने के दौरान गोली चली गई।

 

लोडेड रायफल को साफ कर रहे बीजेपी नेता सुरेंद्र मिश्रा के सीने में गोली लगी। परिवार वाले अस्पताल लेकर पहुंचे जहां 3 घंटे तक इलाज़ के बाद मिश्रा ने दम तोड़ दिया।

 

घटना के बाद से खुशी में शामिल होने जा रहे बीजेपी नेता के परिवार में गम का माहौल है।

 

ग्वालियर के महाराजपुरा थाना शताब्दीपुरम इलाके में रहने वाले सुरेंद्र मिश्रा भिंड बीजेपी के वरिष्ठ नेता थे। मिश्रा भिंड जिले को गोअर खुर्द सोसायटी के अध्यक्ष थे।

 

भिंड में सुरेंद्र के साले की बेटी की शादी थी, जिसमें जाने के लिए पूरा परिवार बीते रविवार को तैयारियां कर रहा था। सुरेंद्र मिश्रा शादी में ले जाने के लिए अपनी बंदूक को साफ कर रहे थे। घर के ऊपरी माले पर मिश्रा रायफल की सफाई कर रहे थे।

 

इसी दौरान गलती से बंदूक का ट्रिगर दब गया और गोली मिश्रा के पेट को छूती हुई सीधी सीने में जा धंसी। गोली लगते ही मिश्रा के खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़े।

 

गोली चलने की आवाज सुनते हैं मिश्रा के बेटे और पत्नी पहली मंजिल पर पहुंचे। जहां कमरे में सुरेंद्र मिश्रा घायल पड़े हुए थे।

 

परिवार वाले उनको अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टरों ने गंभीर हालत देख जयारोग्य अस्पताल रेफर कर दिया। 3 घंटे तक इलाज के बाद मिश्रा ने दम तोड़ दिया।

 

खबर मिलते ही महाराजपुरा पुलिस मौके पर पहुंची पुलिस ने लाइसेंसी राइफल को अपने कब्जे में लिया, जिसमें एक कारतूस और फंसा हुआ था।

 

परिवार के लोगों ने बताया कि 12 बोर की रायफल में 2 कारतूस फंसे हुए थे। मिश्रा को रायफल लोडेड होने की जनकारी नही थी। महाराजपुरा पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।