Home > India News > नोट बैन का असर, भाजपा हारी सभी 17 सीट

नोट बैन का असर, भाजपा हारी सभी 17 सीट

BJP -Bharatiya Janata Partyमुंबई- मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 रुपए के नोट बंद किए जाने के बाद मोदी सरकार को पहला लेकिन बड़ा झटका लगा है। महाराष्ट्र के एक लोकल एग्रिकल्चरल बॉडी में हुए चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार सभी सीटों पर हार गए हैं।

महाराष्ट्र में होने वाला एग्रिकल्चरल प्रोड्यूस मार्केट कमेटी में 17 सीटों पर पीजेन्ट्स एंड वर्कर्स पार्टी ऑफ इंडिया (पीडब्ल्यूडी), शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी एलायंस और भाजपा में से सदस्यों के चुनाव की प्रक्रिया में भाजपा सभी सीटों पर हार गई है।

इस चुनाव में सबसे अधिक 15 सीटों पीजेन्ट्स एंड वर्कर्स पार्टी ऑफ इंडिया ने जीती हैं। वहीं दूसरी ओर, शिवसेना और कांग्रेस ने एक-एक सीट पर जीत हासिल की है, लेकिन भाजपा को कोई सीट नहीं मिली। कांग्रेस ने 25 साल बाद एपीएमसी पोल में एक सीट जीतने में सफलता हासिल कर ली है।

सोमवार को इस जीत का उत्सव मनाते समय स्थिति तब खराब हो गई, जब पीडब्ल्यूडी और कांग्रेस समर्थकों ने कुर्सियां और पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। बताया जा रहा है कि इसमें भाजपा का एक कार्यकर्ता घायल भी हुआ है।

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले से रिटेल और खुदरा व्यापारी काफी परेशान हैं। पूरे महाराष्ट्र में बहुत से किसान और मजदूरों को भी इस फैसले की वजह से दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

9 नवंबर से बंद हुए हैं नोट
8 नवंबर की आधी रात के बाद यानी 9 नवंबर से ही मोदी सरकार ने 500 और 1000 रुपए के नोटों को बैन कर दिया है। इसके बदले सरकार ने फिलहाल 500 और 2000 रुपए के नए नोट जारी किए हैं और जल्द ही 1000 रुपए के नोट भी जारी करने की सरकार की योजना है।

सरकार ने यह कदम कालेधन पर लगाम लगाने के चलते उठाया है। सरकार के अनुसार इस कदम से आतंकवादियों और नक्सलियों को होने वाली फंडिंग पर भी रोक लगेगी। [एजेंसी]




Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .