Home > India News > गौ हत्या करने वालों की टांगे तोड़ देंगे : बीजेपी विधायक

गौ हत्या करने वालों की टांगे तोड़ देंगे : बीजेपी विधायक

मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश में बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने विवादित बयान दिया है। भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक ने धमकी दी है कि जो लोग गाय का वध करेंगे और उसका अपमान करेंगे उनकी टांगे तोड़ देंगे। उनकी इस टिप्पणी से विवाद हो सकता है। खतौली से विधायक विक्रम सैनी 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगा मामले में आरोपी हैं और उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत पकड़ा गया था।

उत्तर प्रदेश के मंत्री सुरेश राणा को सम्मानित करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में सैनी ने कहा, ‘जिन लोगों को ‘वंदे मातरम’ और ‘भारत माता की जय’ कहने में दिक्कत है और जो लोग गाय को अपनी माता नहीं मानते हैं और उनका वध करते हैं उनके हाथ-पैर तोड़ने का मैंने वादा किया था। ” उन्होंने कहा, “हम अपना वादा पूरा करने के लिए तैयार हैं। हमारे पास युवा कार्यकर्ताओं की टीम है जो ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी। ” यह टिप्पणी तब आई है जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने निर्देश दिए हैं कि गाय की तस्करी पर पूरी तरह से रोक को लागू किया जाए और अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। मुख्यमंत्री ने कल स्पष्ट कर दिया कि वैध तौर पर चल रहे बूचड़खानों को छूआ नहीं जाएगा।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि विक्रम सैनी ने इस तरह का विवादित बयान नहीं दिया हो। सैनी पहले भी इस तरह के विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहे हैं। चर्चित मुजफ्फरनगर दंगों के वक्त भी विक्रम सैनी पर भड़काऊ भाषण और दंगों का आरोप लगा था। इसके बाद जिला प्रशासन ने रासुका की कार्रवाई करते हुए सैनी को जेल भेज दिया था।

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने बीजेपी कार्यकर्ताओं और मंत्रिमंडल के सदस्यों से अपील की थी कि वे बयान देने बचें। शनिवार को गोरखपुर की जनसभा में भी योगी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील की थी कि वे आपत्तिजनक बयान देने से बचें। साथ ही उन्होंने जोश में होश नहीं खोने की भी बात कही थी।

मालूम हो विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी सपा, बसपा और बीजेपी के कई नेताओं की ओर से विवादित बयान दिए गए थे। अखिलेश यादव, मायावती और राहुल गांधी अपनी ज्यादातर रैलियों में बीजेपी के नेताओं पर वोटों के ध्रुव्रीकरण करने वाले बयान देने के आरोप लगाते रहे। हालांकि चुनाव आयोग की मनाही के बाद भी मायावती पर धर्म और जाति आधारित बयान देने के आरोप लगते रहे। अब चुनाव खत्म होने के बाद बीजेपी के विधायक विक्रम सैनी की ओर से दिए गए इस तरह के विवादित बयान की विपक्षी नेताओं ने निंदा की है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com