Home > India News > प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों भाजपा सांसद ने जानिए क्या कहा  

प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों भाजपा सांसद ने जानिए क्या कहा  

File photo

खंडवा: कांग्रेस अपनी सरकार बनने के बाद से लगातार उन वादों से मुकरती रही है, जो उसने प्रदेश की जनता से विधानसभा चुनाव के पहले किए थे। अब पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाकर कांग्रेस की प्रदेश सरकार ने यह साबित कर दिया है कि उसके लिए चुनावी वचनपत्र जनता को ठगने के लिए तैयार किया गया झूठ का पुलिंदा था। कांग्रेस ने यह भी साबित कर दिया है कि उसकी नजर में जनता से किए गए वादों की कोई कीमत नहीं है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नंदकुमारसिंह चौहान ने प्रदेश सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर 5 फीसदी वैट बढ़ाए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।

श्री चौहान ने कहा कि विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर लगातार विरोध और आंदोलन करती रही। यही नहीं, बल्कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए तैयार अपने वचन पत्र के खंड ‘पंजीयन, वाणिज्यकर एवं वित्त के बिंदु 35.1 में प्रदेश की जनता से यह वादा किया था कि वह पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस से टैक्स कम करेगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 28 अगस्त, 2018 को हुई एक प्रेस कांफ्रेंस में भी ये स्पष्ट रूप से कहा था कि यदि कांग्रेस सत्ता में आती है, तो वह पेट्रोल की कीमत में 5 रु. और डीजल की कीमत में 3 रु. की कटौती करेगी। लेकिन जब कांग्रेस की सरकार बन गई, जिसके लिए कांग्रेस प्रदेश की जनता को बरगलाना चाहती थी, तो उसने इस वादे को भी कर्जमाफी और बेरोजगारी भत्ते जैसे वादों की तरह ठोकर मार दी।
श्री सिंह ने कहा कि विपक्ष में रहते कांग्रेस ने पेट्रोल की कीमतों को लेकर भारतीय जनता पार्टी की जिस सरकार का विरोध किया था, उसने तो अक्टूबर, 2018 में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 2.50 रुपए की कमी करके प्रदेश की जनता को राहत दी थी, लेकिन खुद को जनता का हमदर्द बताने वाली कांग्रेस अब जनता को लूट रही है। मीडिया प्रभारी सुनील जैन ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी कमलनाथ सरकार की इस धोखाधड़ी और लूट को नहीं सहेगी। पार्टी इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएगी और इस धोखेबाज सरकार का सच जनता को बताकर डटकर विरोध करेगी।
Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com