Home > India > सेना पर अंगुली उठाना देशद्रोह के अपराध के बराबर- विजयवर्गीय

सेना पर अंगुली उठाना देशद्रोह के अपराध के बराबर- विजयवर्गीय

file - pic

file – pic

इंदौर- भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि नियंत्रण रेखा के पार आतंकी ठिकानों पर भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग कर सेना पर अंगुली उठाना देशद्रोह के अपराध के बराबर है।

विजयवर्गीय ने इंदौर में संवाददाताओं से कहा, ‘सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सेना के एक आला अफसर ने बाकायदा संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर इस कदम की आधिकारिक जानकारी दी थी। इसके बावजूद अगर कोई सेना के सर्जिकल स्ट्राइक पर अंगुली उठाता है, तो यह देशद्रोह के अपराध के बराबर है। ’

उन्होंने कहा, ‘अगर कोई सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहा है, तो इसका मतलब है कि वह सेना पर शक कर रहा है। सेना पर बिल्कुल भी शक नहीं किया जाना चाहिये, बल्कि उसका मनोबल बढ़ाया जाना चाहिये। ’

भारत में चीनी सामान के बहिष्कार के समर्थन में जारी अभियान को ‘शुभ संकेत’ बताते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि भारतीयों की इस मुहिम के चलते चीन को विश्व राजनीति में पाकिस्तान का साथ देने के अपने फैसले पर फिर से विचार करने पर मजबूर होना पड़ेगा।

भाजपा महासचिव ने एक सवाल पर उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के कर्ता-धर्ताओं पर तंज कसते हुए कहा, ‘उत्तर प्रदेश में जिन लोगों के हाथों में सत्ता की बागडोर है, उनके परिवार में इतना झगड़ा है कि वे एक-दूसरे की साइकिल पंचर करने में लगे हैं. उनका वर्तमान और भविष्य सबको दिखायी दे रहा है।

शिवसेना ने उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों में 200 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की घोषणा की है। यह पूछे जाने पर कि क्या इससे उत्तर प्रदेश में भाजपा का चुनावी गणित बिगड़ेगा, विजयवर्गीय ने कहा, ‘शिवसेना ने मुंबई में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों का हमेशा विरोध किया है। ऐसे में आप समझ सकते हैं कि इन सूबों के चुनावों में शिवसेना को भला कौन वोट देगा।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com