Home > India > ब्लास्ट आरोपी याकूब ऐडा के बेटे के खिलाफ मोर्चा खुला

ब्लास्ट आरोपी याकूब ऐडा के बेटे के खिलाफ मोर्चा खुला

mumbai

मुंबई – सांताक्रुज पूर्व मुंबई महानगर पालिका के एच पूर्व वार्ड में अवैध निर्माण को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता लियाकत शेख उन लोगों के विरुद्ध मोर्चा खोला जिसमे अवैध निर्माण करने वाले कोई और नहीं बल्कि मुंबई 93 ब्लास्ट में कई सैंकड़ों जाने गयी उन सबकी मौत के जिम्मेदार आरोपी याकूब ऐडा  के बेटे हैं।

मोर्चे को वकोला पुलिस थाने के तत्काल वरिष्ठ प्रभारी खड़लक और उनके कई सहयोगियों की देख रेख में अच्छी तरह बंदोबस्त दिया गया और बी एम सी के अधिकारी कार्यकारी अभियंता जी गरुले ने लियाकत को आश्वसन दिया की 15 दिनों में अवैध निर्माण को तोड़ दिया जायेगा अन्यथा लियाकत फिर से अनशन पर बैठेंगे। लियाकत पत्रकारों को बातचीत में यह बात बताई।

गौरतलब हो की 1993 मुंबई बॉम्ब ब्लास्ट में कौन सा ऐसा नागरिक होगा जिसे ये घटना याद नहीं होगी। जिसने पूरे मुंबई ही नहीं पूरे हिन्दुस्तान को हिला कर रख दिया था। ये ब्लास्ट हिन्द के सारे अखबारों की कई दिनों तक सुर्ख़िया बना रहा था। सांताक्रुज के मोटर वाहन गैराज वाले मधु भाई की बेटी इसमें मारी गयी थी उनकी रूह काँप जाती है

जब उस काले दिन को याद करते हैं। एक कहावत है की बॉम्ब फटने या ब्लास्ट होने के बाद पुलिस लाशों की गिनती करती है। लेकिन वकोला पुलिस ने लियाकत को इस बार मदद की है। मुंबई के प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता लियाकत अली शेख जो आम नागरिकों के दुःख और उनकी सहायता के लिए जाने जातें हैं।

उन्होंने कई बार सामाजिक समस्या हेतु उसके निवारण के लिए धरना, मोर्चा, और अनशन किया है। बी एम सी एच पूर्व वार्ड में बीते वर्ष उन्होंने अनशन किया था। उस अनशन का मुद्दा था बांद्रा पूर्व नवपाड़े में मुंबई 93 ब्लास्ट के आरोपी याकूब ऐड़ा के बेटों द्वारा अवैध अनाधिकृत निर्माण जिसमे उस वक़्त वार्ड अधिकारी अजित कुमार आम्बी थे जो आज अपनी गलतियों की वजह से घर पर आराम कर रहें हैं। उस भ्रष्ट अधिकारी ने सिर्फ आश्वसन दिया था।

कोई ठोस कार्यवाई नहीं की थी अवैध निर्माण करने वालों के विरुद्ध, लेकिन आज बची खुची कसर लियाकत ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ बढ़ चढ़ कर सांताक्रुज पूर्व मुंबई महानगर पालिका के एच पूर्व वार्ड के विरुद्ध मोर्चा निकाल कर अपनी आवाज़ को बुलंद करते हुए कहा की देश द्रोही के बेटे भी देश द्रोही ही होतें हैं। अवैध निर्माण को मुंबई महानगर पालिका के एच पूर्व वार्ड के अधिकारी समर्थन देने का काम कर देशद्रोहियों का साथ दे रहें हैं।

जिसे हम बर्दाश्त नहीं कर सकते और न मुंबई की जनता बर्दाश्त करेगी। जरुरत पड़ी तो आज़ाद मैदान में अनशन पर बैठेंगे बी एम सी के अधिकारियों और उस मुंबई 93 ब्लास्ट के आरोपी याकूब ऐड़ा के बेटों द्वारा किये गए अवैध अनाधिकृत निर्माण के विरुद्ध। अक्सर ये कहावत सत्य साबित होती है की रसूकदार दबंग और पैसे वालों के तलवे चाटे जातें हैं।

इन दिनों मुंबई महानगर पालिका के एच पूर्व वार्ड में ईमारत व कारखाना के अधिकारी यही कार्य पर उतारू हो गए हैं। लियाकत और उसके साथ पांच लोगों का डेलिगेशन को वकोला पुलिस के कुछ अधिकारी द्वारा मध्यांतर से वार्ड अधिकारी सत्यप्रकाश सिंह की अनुपस्थिति में कार्यकारी अभियंता जी जी गरुले के पास ले गए जहाँ पर वार्ता के दौरान गरुले ने 15 दिनों का वक़्त दिया की उस अवैध निर्माण को बी एम सी द्वारा तोड़ दिया जायेगा।

वार्ड अधिकारियों ने नोटिस निर्मल नगर पुलिस थाने को और अवैध निर्माण कर्ता को भेज दी गयी है। यह सारी जानकारी लियाकत शेख ने पत्रकारों को बताते हुए दी है। अंत में अनशन का भी संकेत दिया की रमज़ान में होगा बड़े पैमाने पर अनशन।

रिपोर्ट अजय शर्मा

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com