Home > Crime > पंचायत के फरमान पर प्रेमी को कराया स्तनपान

पंचायत के फरमान पर प्रेमी को कराया स्तनपान

 

Khandwa Gang Rape 01खंडवा [ TNN ]सोमवार को कलेक्टर कार्यालय में बहुचर्चित ग्राम भिलाईखेड़ा के ग्रामीण पहुंचे उन ग्रामीणों में वह महिलाएं भी शामिल थी जिनके पतियों पर गैंगरेप का आरोप लगाया गया है वह सभी महिलाएं अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ कलेक्टर कार्यालय में अपनी गुहार एवं न्याय की आस लेकर आई थी। महिलाओं का कहना है कि उनके निर्दोष परिजनों को पुलिस पकड़कर ले गई, घर में फांके के हालात बन गए, महिलाओं से मिलने पहुंचे अपर कलेक्टर से महिलाओं ने कहा कि या तो हमे न्याय दो, या फिर जहर दें दो।

 
अवैध संबंध में समाज की पंचायत ने सुनाया था फैसला…
गांव भिलाईखेड़ा के ग्रामीणों का साफ कहना है कि खंडवा जिला चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती ग्राम बिलाईखेड़ा की महिला ने अपने पति और गांव वालो पर संगीन आरोप लगाते हुए कहा था कि उसके पति सहित दस लोगों ने उसके साथ मारपीट करने के बाद नग्नावस्था में गांव में घुमाया , उसके बाद पति के उकसावे पर ग्रामीणो ने सामुहिक बलात्कार भी किया । यहींनहीं महिला ने यह आरोप भी लगाया की जब उसने पानी माँगा तो, आरोपियों ने पानी की जगह पेशाब पिलायी। गाँव की कंचनबाई बताती है कि आरोप लगाने वाली महिला के गुलाब नाम के युवक के साथ अवैध सम्बन्ध थे। जिसकी जानकारी मिलने पर आदिवासी भिलाला समाज की पंचायत बुलाई थी। जिसमे पंचों फैसला करते हुए आरोप लगाने वाली महिला का गुलाब को स्तनपान करवाया। ताकि उनके बीच अवैध संबंध खत्म होकर माँ -बेटे का रिश्ता बन सके , लेकिन उसके बाद भी महिला नहीं मानी , मंगलवार की रात उसे पकड़कर लाये , तब आरोप लगाने वाली महिला के दो सगे भाई भी साथ में थे, जिन्होंने अपनी बहन की पिटाई की। महिला गाँव वालो को फंसाने के लिए झूठे आरोप लगा रही है ,जिसकी जाँच होनी चाहिए। 
 
मासूम बच्चियों ने भी सुनाई अपनी दास्तान…
आरोप लगाने वाली महिला की दो बेटियां भी जिला मुख्यालय पहुंची , उन्होंने अपर कलेक्टर और महिला सेल की डीएसपी को बताया कि उनकी मम्मी गाँव के गुलाब नामक व्यक्ति के साथ भाग गई थी। जिन्हे खेत में देखने के बाद उनके पापा पकड़कर घर लाये थे , उन्होंने मम्मी को दो -चार थप्पड़ मारे , उस वक्त दोनों मामा भी साथ थे। जिन्होंने मम्मी की लकड़ी से पिटाई की , इसके अलावा कुछ नहीं किया।
बेटियों का साफ़ कहना है कि उनकी मम्मी झूठ बोल रही है। गाँव के युवा लेखराज सोलंकी और दिनेश तिवारी ने बताया की महिला के साथ माटपीट की घटना जरूर हुई। लेकिन जिस तरह के आरोप वह लगा रही है वैसा कुछ भी नहीं हुआ। इस मामले में पूरा गाँव आरोप लगाने वाली महिला को झूठा ठहराते हुए , आरोपी पति कैलास के साथ खड़ा है। मामले में नया मोड़ आने से पुलिस भी हैरत में है। 
 
पुलिस डीएनए टेस्ट से आएगी सत्यता सामने…
मामले की जांच कर रही महिला सेल की डीएसपी सुनिता रावत ने बताया कि अभी विवेचना जारी है। ऐसे में किसी भी नतीजे पर पहुंचना जल्दबाजी होगी। महिला की मेडिकल रिपोर्ट आ चुकी है , जो महिला के साथ हुई मारपीट की घटना की पुष्टि करती है , लेकिन अन्य आरोपों के मामले में मेडिकल रिपोर्ट स्पष्ट नहीं है।  इसलिए उसके द्वारा लगाये आरोप संदेह के घेरे में है। अब पुलिस आरोपियों के डीएनए के माध्यम से सत्यता की जांच कर रही है। डीएनए रिपोर्ट आरोप लगाने वाली महिला के दोनों भाइयों और महिला के प्रेमी गुलाब के सामने आने से इस घटना की सच्चाई से पर्दा उठ सकेगा।

रिपोेर्ट :- अनंत माहेश्वरी  

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com