killing
रूपनगर- कहते हैं पति और पत्‍नी का रिश्‍ता दुनिया में सबसे ज्‍यादा विश्‍वास भरा होता है लेकिन रूपनगर की रहने वाली एक महिला देवर के प्‍यार में इतनी अंधी हो गई कि उसने अपने सुहाग को ही अपने हाथों से उजाड़ डाला।

जानकारी के अनुसार एसएसपी रूपनगर वरेन्द्रपाल सिंह ने बताया कि 28 अगस्त 2015 को गांव झल्लियां कलां निवासी राजेन्द्र सिंह का शव गांव मनसूहा बुधकी नदी के पुल के निकट से खून से लथपथ मिला था, उसकी हत्या का केस सुलझा लिए गया है। राजेन्द्र सिंह का अज्ञात व्यक्तियों की तरफ से कत्ल कर दिया गया था, जिसके उपरांत मृतक के पिता गुरमेल सिंह के बयानों पर पुलिस ने मामला दर्ज किया था।

हत्या के 48 घंटे के भीतर ट्रेसआऊट करके 3 आरोपियों, मृतक की घरवाली रेखा, केनू पुत्र जेजा तथा दर्शन सिंह पुत्र जीत सिंह निवासी कोटला निहंग थाना सिंह भगवंतपुर को 30 अगस्त 2015 को गिरफ्तार किया गया तथा इनकी निशानदेही पर वारदात में प्रयोग किए गए मोटरसाइकिल (पी.बी.-12 यू-0424) तथा क्रिपाण को भी बरामद किया गया है।

हत्या का कारण रेखा के लड़के केनू के साथ नाजायज संबंध थे। मृतक की घरवाली रेखा ने एक सोची-समझी साजिश के तहत मृतक राजेन्द्र सिंह को अपनी सेहत खराब होने का बहाना लगा कर उसे दवाई लेने के लिए रूपनगर भेज दिया, जहां बुधकी नदी के निकट पहले से साजिश के मुताबिक केनू व उसके चाचा दर्शन सिंह ने क्रिपाणों से वार कर उसकी हत्या कर दी। एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here