अगर आप फेसबुक के मैसेंजर ऐप के रेग्युलर यूजर हैं तो आपके लिए हैं ये अलर्ट

0
22

नई दिल्ली : अगर आप फेसबुक के मैसेंजर ऐप के रेग्युलर यूजर हैं तो आपके लिए अलर्ट करने वाली खबर है। मैसेंजर में ऐसे बग इंफेक्शन का पता चला है, जो यूजर के डेटा को एक्सेस कर सकता है। यह बग वेबसाइट्स को यूजर का डेटा एक्सेस करने की परमिशन दे देता है। ऐसी शिकायत पहले भी आई थी और रिपोर्ट्स के मुताबिक फेसबुक की ओर से इस बग को फिक्स किया जा चुका है।

बग के बारे में सबसे पहले रिपोर्ट करने वाली साइबर सिक्यॉरिटी फर्म Imperva ने बताया कि इस बग के चलते यूजर्स का पर्सनल डेटा और चैट्स सेफ नहीं थे। इस गड़बड़ के चलते वेबसाइट्स को यह जानकारी तक मिल सकती थी कि यूजर किससे चैटिंग कर रहा है। हालांकि अच्छी बात यह है कि गड़बड़ मोबाइल ऐप पर नहीं थी और मेसेंजर के वेब क्लाइंट पर ही रिपोर्ट की गई थी, जिसे फेसबुक ने फिक्स कर दिया है।

बग से जुड़ी जानकारी शेयर करते हुए फर्म ने लिखा, ‘जब करेंट यूजर किसी खास यूजर के कॉन्टैक्ट में नहीं होता तो आईफ्रेम काउंट तीन पर पहुंचता है और कुछ मिलीसेकेंड्स के लिए हमेशा नीचे जाता है। इसकी मदद से कोई भी अटैकर फुल और इंपटी स्टेट्स में अंतर कर सकता था। इसकी मदद से कोई भी रिमोटली चेक कर सकता था कि यूजर किसके साथ चैटिंग करता रहा है या कभी चैटिंग की है। यह यूजर की प्रिवेसी के लिए सीधा खतरा था।’

पिछले साल नवंबर में भी चैटिंग ऐप पर ऐसा ही बग स्पॉट किया गया था, जो पुराने थ्रेड्स को नए मेसेजेस की तरह ऊपर दिखाने लगता था। यह रिपोर्ट फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग के उस ब्लॉग के कुछ दिन बाद आई है, जिसमें वह फेसबुक को प्रिवेसी-फोक्सड ऐप बनाने की बात पर जोर दे रहे हैं। फिलहाल अभी तो ऐप बाकी एनक्रिप्टेड मेसेजिंग ऐप्स की तरह सुरक्षित नहीं दिख रही है।