Home > Business > Facebook ने भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी Misho में किया निवेश

Facebook ने भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी Misho में किया निवेश


प्रमुख सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने आज मीशो में निवेश करने की घोषणा की। यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो भारतीय उद्यमियों को सोशल चैनलों के जरिये ऑनलाइन कारोबार स्थापित करने में समर्थ बनाता है।

फेसबुक ने कहा है कि वह इस सोशल ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म में अल्पांश हिस्सेदारी खरीदेगी। लेकिन उसने इस सौदे की वित्तीय जानकारी देने से इनकार किया। यह किसी भारतीय स्टार्टअप में फेसबुक का पहला निवेश है। हालांकि कैलिफोर्निया की इस कंपनी ने 2014 में बेंगलूरु के स्टार्टअप लिटिल आई लैब्स की अधिग्रहण सह नियुक्ति की थी।

फेसबुक इंडिया के उपाध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अजीत मोहन ने कहा, ‘यह अल्पांश हिस्सेदारी होगी और विचार यह है कि यह वित्तीय हिस्सेदारी दोनों कंपनियों के बीच बातचीत के लिए दरवाजा खोलेगी।’ उन्होंने कहा, ‘हम भारत और यहां तेजी से उभरते इंटरनेट माहौल को लेकर काफी उत्साहित हैं। मीशो में इस निवेश के साथ ही हम एक कारोबारी मॉडल को आगे बढ़ाना चाहते हैं जिससे रोजगार सृजन में तेजी आएगी और भारत में महिला उद्यमियों की संख्या में बढ़ोतरी होगी।’

मीशो की स्थापना 2015 में की गई थी और यह देश में सबसे तेजी से उभरने वाला सोशल कॉमर्स प्लेटफॉर्म है। यह छोटे कारोबारियों और स्वतंत्र उद्यमियों को कारोबार शुरू करने, उसे बरकरार रखने और उसके विकास के लिए विभिन्न उत्पाद एवं टूल्स मुहैया कराता है। बेंगलूरु का यह स्टार्टअप अब तक तीन दौर के निवेश के तहत 6.5 करोड़ डॉलर जुटा चुका है। इसके प्रमुख निवेशकों में सैफ पार्टनर्स, सिकोया इंडिया, वाई कॉम्बिनेटर, शुन्वेई कैपिटल आदि शामिल हैं।

मीशो नवोन्मेषी त्रिआयामी मार्केटप्लेस की सुविधा मुहैया कराती है जो देश भर के रीसेलर, एसएमबी और सूक्ष्म उद्यमियों को सोशल मीडिया के जरिये संभावित खरीदारों तक संपर्क स्थापित करने में मदद करती है।

इनमें से अधिकतर महिला हैं जो पहली बार अपने कारोबारी सपने को साकार करना चाहती हैं। मोहन ने कहा, ‘हमें अच्छा लगा कि यह कंपनी (मीशो) ऑनलाइन कम्युनिटी की ताकत का इस्तेमाल भारत में आर्थिक संभावनाओं के विकास और विशेष तौर पर महिलाओं के लिए करती है।’

बेंगलूरु की इस कंपनी के प्लेटफॉर्म पर 10 लाख से अधिक रीसेलर मौजूद हैं और क्षेत्रीय भाषा इस्तेमाल करने वाले लोगों के बीच उसकी अच्छी पैठ है। हरेक लेनदेन के लिए रीसेलर 10 से 20 फीसदी के दायरे में कमीशन लेते हैं। इस क्षेत्र में मौजूद अन्य कंपनियों में शॉप101, ग्लोरोड और ईजमॉल शामिल हैं।

मीशो के सह-संस्थापक विदित अत्रेय ने कहा, ‘मीशो टीम के लिए यह अद्ïभुत यात्रा रही है और हम अधिक इंतजार नहीं कर सकते क्योंकि हम कहीं अधिक बड़ी कम्युनिटी तैयार करने और लाखों उद्यमियों को सफल बनाने के अपने लक्ष्य की ओर काम कर रहे हैं।’ पिछले चार साल के दौरान मीशो देश भर में 15,000 आपूर्तिकर्ताओं और 20 लाख से अधिक रीसेलर का नेटवर्क तैयार करने में सफल रही है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com