सीसीटीवी की मदद से 10 घंटे में हुआ लूट की घटना का खुलासा - Tez News
Home > India > सीसीटीवी की मदद से 10 घंटे में हुआ लूट की घटना का खुलासा

सीसीटीवी की मदद से 10 घंटे में हुआ लूट की घटना का खुलासा

खंडवा : खंडवा में हुई दिनदहाड़े लूट की घटना का पर्दा फाश मात्र 10 घंटे में ही हो गया। खंडवा पुलिस ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए तीन शातिर बदमाशों को लूट के आरोप में गिरफ्तार किया। दरअसल शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके बुधवारा बाजार में सुबह करीब 9.30 बजे पेट्रोल पंप के कर्मचारी के साथ 18 लाख रुपए की लूट हो गई थी । दो बाइक पर चार युवक आए और कट्टा अड़ाकर रुपयों से भरा बैग छिनकर भाग थे , पर वारदात के बाद भागते हुए लुटेरे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गए । पुलिस ने सुचना मिलते ही पूरे शहर सहित चारों सीमाओं पर नाकाबंदी कर दी थी ।

सीसीटीवी बना मददगार
मौके पर पहुंचे एसपी नवनीत भसीन, सीएसपी शेषनारायण तिवारी, टीआई दिलीप पुरी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। वारदात स्थल के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर क्षेत्र के वीडियो फुटेज को पुलिस खंगाला बस यही से आरोपियों की कमजोर कड़ी सामने आ गई। वारदात के बाद जैसे ही पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही थी उसी वक्त उन्हें वारदात में इस्तेमाल संग्दिग्ध बाइक दिखाई दी। यही वह पॉइंट था जिस पर पुलिस ने अपनी तफ्तीश आगे बढ़ाई। पुलिस ने फरयादी से जुड़े लोगो से पूछताछ शुरू की साथ ही वारदात के पहले और बाद के सीसीटीवी फुटेज को मिलाया गया। सीसीटीवी में भागते दिख रहे आरोपियों का मिलान घटना स्थल के पास के सीसीटीवी से किया गया तो पता चला की क्षेत्र के ही चिंटू उर्फ़ आशीष यादव पिता राजेश यादव ,दीपक यादव और राजू यादव ने इस वारदात को योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया है। पुलिस ने इस पुरे मामले में फरयादी के ड्राइवर सोहनलाल पाल को भी आरोपी बनया है।

रिमांड पर लेंगे
पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने बताया की आरोपी चिंटू उर्फ़ आशीष यादव को जैसे ही पुलिस ने गिरफ्त में लिया , उसने वारदात को अंजाम देना काबुल कर अपने साथियों का नाम भी बता दिया। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने 17 लाख 33 हजार रूपये नगद बरामद किये। आरोपियों को रिमांड पर लेकर घटना में उपयोग किये गए देशी कट्टा और बाकि बकी राशि जब्त की जायगी।

मात्र 10 घंटे में उजागर
शहर में सनसनी फैलाने वाली घटना को मात्र 10 घंटे में उजागर करने वाली टीम को अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक( इंदौर झोन ) द्वारा 30 हजार रूपये नगद और फरयादी द्वारा 51 हजार रूपये पुलिस वेलफेयर को बतौर पुरस्कार दिए गए।

@निशात सिद्दीकी /विजय तिर्थानी 

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com