आधुनिक इंडिया के बैनर तले बिरसा मुंडा जयंती मनाई - Tez News
Home > State > Delhi > आधुनिक इंडिया के बैनर तले बिरसा मुंडा जयंती मनाई

आधुनिक इंडिया के बैनर तले बिरसा मुंडा जयंती मनाई

adhunik india ,birsa munda utsav news

नई दिल्ली [ TNN ] धरती अबा नाम से प्रसिध्य आदिवासी महानायक बिरसा मुंडा का 139 जन्मदिवस पुरे देश के साथ ही राजधानी दिल्ली में भी बड़े ही धूमधाम से मनाई गई . जय सिंह मार्ग स्थित हेंज ऑडिटोरियम में आधुनिक इंडिया के बैनर तले बिरसा मुंडा का 139 वी जन्मजयंती मनाई गई . इस अवसर पर एक संगोष्ठी का भी आयोजन किया गया . बिभिन्न आदिवासी जनगोष्टी के प्रतिनिधियों ने शामिल हुए इस संगोष्ठी में जिसका नाम आदिवासी पूर्व, वर्तमान और भविष्यत् रखा गया था.

इस अवसर पर सबसे पहले आदिवासी परंपरा अनुसार सभी अतिथियों का स्वागत किया गया तत्पचात दीप प्रज्वलित किया गया उसके उपरांत धरती अबा बिरसा मुंडा के चित्र में फूलो द्वारा उनका नमन किया गया. उसके बाद सभी अतिथियों का फुलाम गमछा से स्वागत किया गया. उसके उपरांत संगोष्ठी का सुरुआत किया गया . संगोष्ठी का अध्यक्षता एम सी देऊगम ने किया.

इस अवसर पर कार्यक्रम को केंद्रीय सुचना आयोग के संयुक्त सचिव शांति प्रिय वेक, दिल्ली सरना समाज से सोमा मिंज, मेजर शिवेन्द्र पाण्डेय, उत्तर प्रदेश भाजपा सामाजिक न्याय मोर्चा के कार्यकारी सद्यस्य महेश चन्द्र साहू, हो समाज से एम.सी. देवगाम, सीबीसीआई सेंटर के आदिवासी कमिटी के सचिव स्तानिस्लॉस तिर्की, मौलाना आज़ाद मेडिकल कॉलेज के निदेशक प्रोफेसर डॉ. प्रकाश चन्द्र राय, अशोक बक्सला, जॉन नाग, यूपीएससी के उप सचिव मंगल मरांडी तथा एशिया पसिफ़िक इंडिजेनस युथ नेटवर्क, फिलीपींस के भारत के अध्यक्ष तथा भारत के लिए संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधि, डॉ. मीनाक्षी मुंडा, योजना आयोग के निदेशक मैरी बी बारला, असम आदिवासी दिल्ली एसोसीएसन के अध्यक्ष जेम्स टोप्पो, पूर्व भारतीय प्रशासनिक अधिकारी आर एल मीणा ने संबोधित किया।

कार्यक्रम के दौरान वक्ताओं ने बिरसा मुंडा के सामाजिक और स्वतंत्रता संग्राम में योगदान को याद करते हुए आदिवासियों के जंगल और जमीन को बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने की जरूरत पर बल दिया। देश के राजनीतिक नेतृत्व द्वारा आजादी के बाद भी बिरसा मुंडा को उचित सम्मान न दिए जाने पर निराशा व्यक्त करते हुए कार्यक्रम में मांग की गईं कि राजधानी में एनडीएमसी एरिया में कहीं उपयुक्त स्थान पर बिरसा मुंडा की मूर्ति लगाईं जाए। उनके नाम पर राजधानी में कम से कम एक सामुदायिक केंद्र का निर्माण किया जाए जहां आदिवासी समुदाय के लोग मिलजुल कर विचार-विमर्श कर सके और अपने कार्यक्रमों को अंजाम दे सके। कार्यक्रम में बिरसा मुंडा के नाम पर एक सड़क या लेन का नाम रखने की भी मांग की गईं।

कार्यक्रम के आयोजक आधुनिक इंडिया के मुख्य संपादक डी.के.चौहान ने वहां मौजूद लोगों को जानकारी दी कि जल्द ही आदिवासी लोगों का टेलीफोन नम्बरों की एक डायरी प्राकाशित की जाएगी। कार्यक्रम में मेहरौली ट्राइबल कल्चरल ग्रुप द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया. कार्यक्रम का संचालन कमल चंद किसपोट्टा ने किया. कार्यक्रम का धन्यबाद ज्ञापन आधुनिक इंडिया के मुख्य संपादक डी. के. चौहान ने किया. कार्यक्रम में असम, बंगाल, झारखंड, बिहार और राजस्थान से भी बड़ी संख्या में लोग आए थे।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com