Home > State > Delhi > धूमधाम से मनाया 66वां गणतंत्र,सेना ने दिखाया दमखम

धूमधाम से मनाया 66वां गणतंत्र,सेना ने दिखाया दमखम

March-past_RDAYनई दिल्ली – देश की राजधानी दिल्ली में देश का 66वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने तिरंगा फहराया और परेड की सलामी ली। इस दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा, उनकी पत्नी मिशेल ओबामा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहे। राजपथ पर सेना ने जहां अपने दमखम का प्रदर्शन किया, वहीं राज्यों आदि की झांकियों ने मन मोह लिया।

भारत दौरे पर आए अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि भी थे। सोमवार सुबह सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट पहुंचे और उन्हें अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि देने के बाद पीएम ने दो मिनट का मौन भी रखा। इस दौरान रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी वहां मौजूद थे। इसके बाद मोदी समारोह स्थल पहुंच गए।

दिल्ली में रात से ही बूंदाबांदी हो रही थी, जो समारोह शुरू होने से पहले एक बार फिर तेज हो गई। इसी दौरान समारोह के मुख्य अतिथि बराक ओबामा अपनी स्पेशल कार ‘द बीस्ट’ पर सवार होकर समारोह स्थल पहुंचे। उनके साथ उनकी पत्नी मिशेल भी थीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें रिसीव किया और मंच तक ले गए। कुछ ही देर बाद तीनों सेनाओं के कमांडर-इन-चीफ और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का काफिला सभा स्थल पहुंचा। उन्हें भी पीएम मोदी ने रिसीव किया और मंच तक ले गए।

करीब 10 बजे तिरंगा फहराया गया और राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का आगाज हुआ। सबसे पहले राष्ट्रपति ने वीरता पुरस्कार दिए। कश्मीर घाटी में आतंकवादियों का मुकाबला करते हुए अपने प्राण न्योछावर करने वाले मेजर जनरल मुकुंद वरदराजन और नायक नीरज कुमार सिंह को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया गया। इसके बाद परेड का शुभारंभ हुआ।

सबसे पहले परेड कमांडर मेजर जनरल सुब्रतो मित्रा ने कमांडर-इन-चीफ राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सलामी दी। इसके बाद सेना ने अपने दमखम का प्रदर्शन किया। पहले सेना के हथियारों और टेक्नॉलजी की झलक देखने को मिली, उसके बाद विभिन्न दस्ते कदम से कदम मिलाकार भारत की ताकत को दिखाते हुए राजपथ से गुजरे।खासबात यह रही कि इस गणतंत्र दिवस की थीम नारी शक्ति थी। ऐसे में पहली बार तीनों सेनाओं की महिला ऑफिसर्स अपने दस्तों का नेतृत्व करती नजर आईं।

सेना की झांकियां और मार्च खत्म होने के बाद वक्त आया राज्यों की झांकियों का। शुरुआत हुई कर्नाटक से और फिर गोवा, यूपी, मध्य प्रदेश, असम आदि राज्यों की स्पेशल झांकियां देखने को मिलीं। इस बार तेलंगाना की झांकी भी नजर आई, जिसका गठन पिछले साल ही हुआ है। गुजरात की झांकी में स्टैचू ऑफ लिबर्टी को दिखाया गया था।

इसके अलावा सरकार की योजनाओं और विभिन्न विभागों आदि की झांकियां भी नजर आईं। पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘मेक इन इंडिया’ का लोगो मशीन से बना शेर भी दिखा। आखिर में स्कूली बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश किए। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन पर भी एक प्रस्तुति दी।

समारोह जब आखिरी दौर में पहुंचा, तो सभी को इंतजार था वायुसेना के करतबों का। सबसे पहले MI35 हेलिकॉप्टर फॉरमेशन बनाते हुए उड़े। मौसम साफ नहीं था, विजबिलिटी कम थी, मगर लोग आसमान पर नजरें गड़ाए बैठे रहे। सेना के विभिन्न विमानों ने शानदार हवाई कतरब दिखाए। आखिर में राष्ट्रगान के साथ समारोह का समापन हो गया।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com