chennaiचेन्नई- चेन्नई में बारिश से आफत आ गई है। बारिश के कारण आधा चेन्नई डूबा हुआ नजर आ रहा है। चेन्नई में हालात इस कदर बिगड़ गए हैं कि आर्मी, नेवी, एयरफोर्स और एनडीआरएफ को मोर्चा संभालना पड़ा है। पीएम मोदी ने सीएम जयललिता से दो बार फोन पर बात कर उन्हें पूरी मदद का भरोसा दिलाया है। चेन्नई में बारिश ने पिछले 100 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकार के मंत्रियों के साथ मीटिंग की है, इसमें राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, सुषमा स्वराज और वैंकेया नायडु मौजूद थे।

चेन्नई एयरपोर्ट दिनभर के लिए बंद कर दिया गया है। मंगलवार को यहां 14 घंटे में 20 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। दोपहर 12.30 बजे कैबिनेट सेक्रेटरी ने डीजी मौसम विभाग, होम सेक्रेटरी, एनडीआरएफ, एनडीएमए के अफसरों की मीटिंग बुलाई है। चेन्नई में नवंबर में करीब 120 सेमी. बारिश हुई है। यहां के दो सब अर्बन (तांबरम और मुदीचुर) इलाकों में हालात बेहद खराब हो गए हैं।

यही वजह है कि आर्मी को बुलाया गया है। एनडीआरएफ की 10 टीमें चेन्नई भेजी गई हैं। इनमें से चार पहुंच चुकी हैं। आर्मी ने 50-50 जवानों की दो टीमें चेन्नई के दो इलाकों में भेजी हैं। नेवी ने आईएनएस अडयार से दो टीमें रवाना की हैं। एयरफोर्स के भी दो हेलिकॉप्टर रिलीफ ऑपरेशन में जुटे हैं। रनवे पर पानी भर जाने के बाद चेन्नई एयरपोर्ट दिनभर के लिए बंद कर दिया गया है।

एयरपोर्ट पर 400 ट्रैवलर मौजूद हैं, जिन्हें मौसम खुलने का इंतजार है। 19 ट्रेनें भी कैंसल कर दी गई हैं। स्कूल-कॉलेज 16 दिन से बंद हैं। ये 10 दिन और बंद रहेंगे। इंडस्ट्रीज और सरकारी ऑफिस भी बंद हैं।वेदर डिपार्टमेंट का कहना है कि अगले तीन-चार दिन तक बारिश जारी रह सकती है। बारिश से एक महीने में 188 लोगों की मौत हो चुकी है। मौसम विभाग के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर जनरल वाईए.राज ने दावा किया कि इससे पहले नवंबर 1918 में शहर में सबसे ज्यादा 1088 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here