छत्तीसगढ़ : नक्‍सलियों से मुठभेड़, चार जवान शहीद

demo- pic

अबुझमाड़ क्षेत्र में नक्‍सलियों के साथ मुठभेड़ में चार जवान शहीद हो गए हैं। इसमें दो एसआई और दो आरक्षक बताए जा रहे हैं। करीब 7 जवान घायल भी हुए हैं। शहीद जवान डीआरजी के सदस्‍य बताए गए हैं। मुठभेड़ के दौरान कुछ नक्‍सलियों के मारे जाने की भी जानकारी मिल रही है। डीआईजी सुंदरराज पी ने इसकी पुष्टि की है। घायल जवानों को रायपुर लाया गया है। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर सुरक्षाबल सर्चिंग अभियान पर थे। इस घटना के बाद क्षेत्र के लोगों में दहशत है।

इससे पहले मुठभेड़ में 11 जवानों के घायल होने की प्रारंभिक जानकारी मिली थी। इनमें से चार की हालत गंभीर बताई गई थी। माओवादियों के दुर्गम इलाके में पुलिस सर्चिंग ऑपरेशन पर थी तभी यह मुठभेड़ हुई। करीब 60 जवान सर्चिंग पर निकले थे। नक्‍सलियों के साथ मुठभेड़ सुबह से चल रही थी। नक्‍सलियों ने मौका मिलने पर सुरक्षाबलों को घेरकर गोलियां बरसाई। क्षेत्र के लोगों के अनुसार गोलियों की आवाज काफी दूर तक सुनी गई।

दुर्गम इलाके में नेटवर्क नहीं होने से सही सूचना मिलने में विलंब हो रहा है। सर्चिंग को देखते हुए नक्‍सलियों ने क्षेत्र में एंबुश लगाया था।

बताया जाता है कि यह मुठभेड़ इरपानार इलाके में हुई। यह अबुझमाड़ क्षेत्र में आता है। यह थोड़ाई से 15 किलोमीटर दूर है। घायल जवान एसटीएफ अौर डीएफ के सदस्‍य बताए गए हैं।

शहीदों के शवों को लाने के लिए जगदलपुर से हेलीकाप्टर भेजा गया है। इस घटना के तत्काल बाद आईजी विवेकानंद नारायणपुर पहुंचे गये हैं वहीं डीआईजी कांकेर रतनलाल डांगी भी नारायणपुर के लिए निकल गये हैं।

वहीं बीजापुर क्षेत्र में आईईडी की चपेट में आकर 2 जवान घायल हो गए। एक की स्थिति नाज़ुक बताई गई है जबकि दूसरे को सामान्य चोट आई है। एसटीएफ के जवान लखन गढ़पाले को गंभीर चोट आई है।

बताया जाता है कि एसटीएफ और जिला बल के जवान एंटी नक्सल आपरेशन पर निकले थे। हेलीकॉप्टर के माध्यम से दोनों जवानों को बेहतर इलाज के लिए रायपुर भेजा गया है। मामला बासागुड़ा थाना क्षेत्र का है। बीजापुर एसपी एमआर अहिरे ने घटना की पुष्टि की है।