मुख्यमंत्री जी आप पर मकान गिर जाएगा - Tez News
Home > India News > मुख्यमंत्री जी आप पर मकान गिर जाएगा

मुख्यमंत्री जी आप पर मकान गिर जाएगा

बैतूल: जिला मुख्यालय से 90 किमी दूर बेलकुंड ढाना गांव में नात्या सिंह के घर के दरवाजे पर जैसे ही सीएम पहुंचे तो वह उनके पैरों में झुका। लेकिन पैरों से उठाकर उसे गले लगाकर सीएम ने कहा- अपना नाम तो बताओ। बोला नात्या सिंह। सीएम बोले- अब ये बताओ,आपके पास क्या नहीं है। नात्या ने कहा- मकान टूटा-फूटा है,इसे ही बनवा दो। देख रहे हो,कितनी खराब हालत में है।आप पर गिर जाएगा तो दिक्कत हो जाएगी । सीएम बोले- ऐसा मत कहो, जरूर बनवाएंगे।

अफसरों से कहा- इनका मकान स्वीकृत करो। इसके बाद सीएम ने नात्या से पूछा-कुछ और तो नहीं चाहिए। नात्या बोला-साहब, बैलजोड़ी और दिलवा दो। सीएम बोले- कितने के आएंगे। वह बोला- पता तो नहीं, लेकिन 30 हजार में आ जाएंगे। सीएम ने भैंसदेही विधायक महेंंद्र सिंह चौहान से कहा कि इन्हें बैलजोड़ी दिलाने की जिम्मेदारी आपकी है।

मुख्यमंत्री पार्टी के कार्य विस्तार योजना के तहत जिले के दौरे पर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों से बातचीत की। घर-घर जाकर उन्होंने पार्टी के पर्चे बांटे और स्टीकर चिपकाए। दीनदयाल शताब्दी वर्ष के तहत पूरे देश में भाजपा अपने विस्तार कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। इसके तहत पार्टी पदाधिकारी, मंत्री कार्यकर्ता बूथ स्तर तक पहुंचकर समयदान कर रहे हैं। बैतूल जिले में ऐसी 270 ग्राम नगर केंद्र बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री इसी के तहत यहां पहुंचे थे।

जो अपात्र हो गए हैं, उन्हें भी मकान देगी सरकार:

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधामंत्री आवास योजना के तहत जिन 13 बिंदुओं को लेकर दिक्कत आ रही थी, सरकार ने उसका तोड़ निकाल लिया है। अब सिर्फ उन्हें ही मकान नहीं मिलेगा,जिनके पास ट्रैक्टर,फोर व्हीलर,पक्का मकान और पक्की नौकरी है। बाकी सभी लोगों को पीएम आवास के तहत मकान दिया जाएगा। इसलिए जो लोग अपात्र हो गए हैं, उन्हें भी दोबारा पात्र मानकर मकान मंजूर किया जाएगा। सीएम ने कहा कि तेंदुपत्ता तोड़ने वालों को भी सरकार चरण पादुका बांटेगी।

घरों में गए सीएम, जमीन पर बैठकर ग्रामीणों से की चर्चा:

मुख्यमंत्री चौहान बेलकुंड ढाना के 17 घरों में गए। यहां पर पार्टी के पर्चे बांटे। घर के बाहर खटिया बिछी लेकिन जमीन पर बैठे। घर के सदस्य से चर्चा की। जो मांगा, वो देने का वादा किया। साथ ही कहा कि किसी तरह की दिक्कत आए तो मुझे बता देना। जब वो विधवा भूरी जावलकर पति डमडू के यहां पहुंचे तो वह सीएम से रोते हुए बोली- पति-बेटा की मौत हो गई है। घर में कमाने वाला कोई नहीं। सीएम बोले-दुखी मत हो, मैं आ गया हूं। अफसरों से कहा कि तत्काल 50 हजार रुपए और मकान मंजूर करो। बीपीएल सूची में नाम जोड़ो।

@एजेंसी

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com