गुजरात के नर्मदा जिले में सरदार सरोवर बांध के पास सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा बनने के बाद अब अयोध्या में राम की सबसे बड़ी मूर्ति बन सकती है।

मूर्ति का निर्माण उत्तर प्रदेश के अयोध्या में सरयू तट कराया जा सकता है। यह प्रतिमा 151 मीटर ऊंची होगी और इस बात की घोषणा खुद सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस दीवाली के अवसर पर कर सकते हैं।

राम की प्रतिमा बनने की खबरों के बाद इस बार अयोध्या की दीवाली और ज्यादा भव्य हो गई है। इस बार अयोध्या के घाटों पर तीन लाख दिए जलाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की योजना है।

छोटी दीवाली के दिन यहां भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में कई बड़ी हस्तियों को आमंत्रित किया गया है।

इस खास मौके पर यूपी से सीएम योगी आदित्यनाथ , यूपी के गवर्नर राम नाइक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन और कोरिया की फर्स्ट लेडी खास मेहमान होंगे।

छोटी दीपावली यानि छह नवम्बर को अयोध्या में भव्य दीवाली का कार्यक्रम इस प्रकार होगा-

1- पहला कार्यक्रम दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक का है जिसमें साकेत महाविद्यालय से शोभायात्रा निकाली जाएगी। इस शोभायात्रा में भगवान राम के जीवन की झांकियां दर्शायी जाएंगी।

2- दोपहर 3:15 से 4 बजे तक रानी हो के स्मारक के विस्तारीकरण का शिलान्यास होगा और उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी।

3- दोपहर 4 से 4:30 बजे तक ‘पुष्पक विमान’ को रामकथा पार्क में उतारा जाएगा। सीएम योगी राज्यपाल राम नाईक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन और कोरिया की फर्स्ट लेडी का स्वागत करेंगे। उनका राज्याभिषेक होगा।

4- दोपहर 4:45 से 5:45 तक रामकथा पार्क में सीएम योगी प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन और कोरिया की फर्स्ट लेडी का भाषण होगा।

5- शाम 6:15 से 6:45 तक योगी आदित्यनाथ मां सरयू की आरती करेंगे। इस दौरान सभी अतिथि उनके साथ होंगे।

6- शाम 6:45 से 7:30 बजे तक दीपोत्सव कार्यक्रम होगा। सीएम योगी राम की पौड़ी पर दीप जलाएंगे।