MP की सियासत पर कर्नाटक में हल्ला बोल

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को बेंगलुरू के अमृताहल्ली पुलिस स्टेशन ले जाया गया है। उनका कहना है कि वह अब भूख हड़ताल पर हैं। उन्हें निवारक (प्रिवेंटिव) गिरफ्तारी के तहत रखा गया है। मध्यप्रदेश कांग्रेस नेता पी.सी.शर्मा बोले दिग्विजय सिंह राज्यसभा के उम्मीदवार हैं,कांग्रेस के जो विधायक बंधक हैं उनसे मिलने का उन्हें ​अधिकार है। संविधान को खत्म करने की कोशिश की जा रही है।ऐसा लगता है कि केंद्र सरकार भी ​इसमें मिली हुई है, कर्नाटक सरकार तो मिली ही हुई है।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है मुझे क्यों गिरफ्तार किया गया है? जब तक मैं विधायकों से मिल नहीं लेता मैं यहां से नहीं जाऊंगा। सरकार भी बचाएंगे और अपने विधायकों को भी वापस लाएंगे। मैं कानून का पालन करने वाला नागरिक हूं मैंने किसी कानून को नहीं तोड़ा है।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह बोले मैंने खुद 5 विधायकों से बात की उन्होंने कहा कि वे बंदी हैं, उनके फोन छीन लिए गए, हर कमरे के सामने पुलिस है। उन्हें 24/7 फॉलो किया जा रहा है। भाजपा फ्लोर टेस्ट के लिए कह रही है लेकिन 22 विधायकों के बिना फ्लोर टेस्ट कैसे हो सकता है।

कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डी.के. शिवकुमार बोले राज्य में भाजपा सरकार सत्ता का दुरुपयोग कर रही है। हमारी अपनी राजनीतिक रणनीति है, हम जानते हैं कि स्थिति को कैसे संभालना है। वह (दिग्विजय सिंह) यहाँ अकेला नहीं है। मैं यहाँ हूं। मुझे पता है कि उसे कैसे सपोर्ट करना है।

कांग्रेस नेता जीतू पटवारी बोले किसने कहा कि वो मिलना नहीं चाह रहे। प्रेशर में किस-किस से क्या बात कही जा रही है इसलिए तो हम मिलना चाहते हैं।…पुलिस से हम रिक्वेस्ट कर रहे हैं कि हमें विधायकों से मिलवाओ नहीं तो सत्याग्रह कर रहे हैं दिग्विजय सिंह।

बेंगलुरू के अमृताहल्ली पुलिस स्टेशन में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डी.के. शिवकुमार और मध्य प्रदेश कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा, सचिन यादव और कांतिलाल भूरिया मौजूद है।