केंद्रीय कौशल विकास मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के ‘हिंदू लड़कियों’ को लेकर दिए बयान के बाद कांग्रेस के एक समर्थक ने पलटवार किया है।

तहसीन पूनावाला ने सोमवार को केंद्रीय मंत्री हेगड़े को चुनौती देते हुए पत्नी के साथ एक फोटो ट्वीट की।

उन्होंने लिखा- ‘अनंत हेगड़े जी मेरे हाथों ने एक हिंदू लड़की को छू लिया है, अब आप जो करना चाहते हैं कीजिए।’

तहसीन पूनावाला ने ट्वीट में अपनी पत्‍नी मोनिका वडेरा की तस्‍वीर डाली है। मोनिका, रॉबर्ट वाड्रा की कजन है।

दरअसल, अनंत कुमार हेगड़े ने रविवार को कहा था कि ‘जो हाथ हिंदू लड़की को छुए वह बचना नहीं चाहिए’। जिसके बाद कांग्रेस समर्थक पूनावाला ने उनपर पलटवार किया।

कर्नाटक के कोड़ागू में रविवार को एक रैली को संबोधित करते हुए केंद्रीय कौशल विकास मंत्री अनंत कुमार ने ये बातें कही थी।

उनका कहना था कि ‘हमें अपनी समाज की प्राथमिकताओं के बारे में फिर से सोचना होगा, हमें जाति के बारे में नहीं सोचना चाहिए।’ हेगड़े ने कहा, ‘हमारे आस-पास जो हो रहा है, उस पर भी निगाह रखनी चाहिए।’

अनंत हेगड़े के बयान की सोशल मीडिया की दुनिया में काफी आलोचना हो रही है। ‘हिंदू लड़कियों’ को लेकर दिए बयान के बाद कर्नाटक के कांग्रेस प्रमुख दिनेश गुंडुराव और उनके बीच ट्विटर पर युद्ध छिड़ गया है।

गुंडुराव ने हेगड़े के इस बयान की आलोचना की। साथ ही उन्होंने कर्नाटक के विकास में हेगड़े के योगदान और उपलब्धियों पर भी सवाल उठाया।

इस पर हेगड़े ने प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया, ‘मैं अपनी उपलब्धियों के बारे में जरूर बताऊंगा, लेकिन क्या उससे पहले गुंडुराव बताएंगे कि उनकी क्या उपलब्धि है। मैं तो यही जानता हूं कि वो मुस्लिम लड़की के पीछे भागते थे।’

माना जा रहा है कि ये बात हेगड़े ने अप्रत्यक्ष रूप से गुंडुराव की मुस्लिम पत्नी तबू राव के लिए कही थी।

इस पर दिनेश गुंडुराव ने ट्वीट किया कि हेगड़े को सार्वजनिक मंच पर बातचीत करने का तरीका नहीं पता है। शायद उन्होंने हिंदू ग्रंथ नहीं पढ़े हैं।

बता दें कि दिनेश गुंडुराव की पत्नी तबू राव हमेशा राजनीति से दूर रहती हैं। उन्होंने इससे पहले भी विपक्षी पार्टियों से अपील की थी कि उनको राजनीति में न खींचा जाए।

लेकिन विपक्षी पार्टियां समय-समय पर डिबेट में उनका नाम लेती रहती हैं। कुछ दिन पहले ही बीजेपी सांसद शोभा करंदलाजे और प्रताप सिम्हा ने अंतर-धार्मिक विवाह के कारण दिनेश गुंडुराव पर निशाना साधा था।