कोरोना वायरस के कारण देश में 63 फीसदी मौत 60 साल से ऊपर के लोगों की: स्वास्थ्य मंत्रालय

लव अग्रवाल ने बताया कि 76 फीसदी कोरोना संक्रमण से संक्रमित लोग पुरुष हैं, जबकि 24 फीसदी महिलाएं इस वायरस से संक्रमित हैं। सभी राज्यों को हर संभव मदद पहुंचाने की कोशिश हो रही है। 1100 करोड़ रुपए पहले ही नेशनल हेल्थ मिशन की ओर से जारी कर दिया गया है। इसके अलावा 3000 करोड़ आज जारी किए जाएंगे। किसी भी राज्य में आवश्यक सामान की कमी ना होने पाए इसके लिए भी युद्ध स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं।नई दिल्ली: कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा देश में लगातार बढ़ रहा है। इस वायरस से भारत में अबतक 109 लोगों की जान जा चुकी है। 5 मार्च को सर्वाधिक 30 लोगों की इस वायरस ने जान ले ली। स्वास्थ्य मंत्रालय के ज्वाइंट सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि जिन लोगों की मौत हुई है, उसमे 63 फीसदी वो लोग हैं जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है, जबकि 30 फीसदी मरने वालों की उम्र 40-60 वर्ष के बीच है। जबकि 7 फीसदी मरने वालों की उम्र 40 वर्ष से कम है। लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 693 नए कोरोना संक्रमित के मामले सामने आए हैं, जिसके बाद देश में कोरोना संक्रमण से संक्रमित लोगों की संख्या 4063 पहुंच गई है, जिसमे 1445 लोग तबलीगी जमात के हैं।

लव अग्रवाल ने बताया कि 76 फीसदी कोरोना संक्रमण से संक्रमित लोग पुरुष हैं, जबकि 24 फीसदी महिलाएं इस वायरस से संक्रमित हैं। सभी राज्यों को हर संभव मदद पहुंचाने की कोशिश हो रही है। 1100 करोड़ रुपए पहले ही नेशनल हेल्थ मिशन की ओर से जारी कर दिया गया है। इसके अलावा 3000 करोड़ आज जारी किए जाएंगे। किसी भी राज्य में आवश्यक सामान की कमी ना होने पाए इसके लिए भी युद्ध स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। पिछले 13 दिनों में भारतीय रेलवे ने 1340 गाड़ियों से चीनी, 948 गाड़ियों से नमक, 316 गाड़ी व टैंक से खाने में इस्तेमाल होने वाला तेल देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंचाया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया कि 16.94 लाख मिट्रिक टन अनाज अभी तक भारत के अलग-अलग हिस्सों में तमाम साधनों का इस्तेमाल करके पहुंचाया गया। 13 राज्यों में 1.3 लाख मीट्रिक टन गेहूं, 8 राज्यों में 1.32 लाख मीट्रिक टन चावल भी पहुंचाया गया है। वहीं कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार तैनात हैं और काम कर रहे हैं। इनकी सुरक्षा के मद्देनजर सरकार लगातार कदम उठा रही है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के आर गंगखेडकर ने बताया कि कोरोना की जांच के लिए 5 लाख टेस्टिंग कीटम का सरकार ने ऑर्डर दिया है। 2.5 लाख किट 8-9 अप्रैल तक आ जाएंगे।

वहीं तबलीगी जमात के लोगों के बारे में जानकारी देते हुए गृह मंत्रालय की ज्वाइंट सेक्रेटरी पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि हमने अभी तक कुल 25000 तबलीगी जमात और इनके संपर्क में आए लोगों को क्वारेंटाइन किया है। हरियाणा के पांच गांव को सीज कर दिया गया है, जहां तबलीगी जमात के लोग गए थे।