Home > Sports > Cricket > विश्व कप : भारत-पाकिस्तान मैच के टिकट 60 हजार तक

विश्व कप : भारत-पाकिस्तान मैच के टिकट 60 हजार तक


भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीमों के बीच रविवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर होने वाले आईसीसी विश्व कप-2019 मुकाबले के टिकटों की कीमत 60 हजार रुपये तक पहुंच गई। साल 2013 के बाद भारत और पाकिस्तान की टीम कूटनीतिक कारणों से सिर्फ आईसीसी और एशियाई क्रिकेट काउंसिल द्वारा आयोजित किए जाने वाले टूर्नमेंट में आमने-सामने हो पाती हैं।

टेन में लाखों की संख्या में भारतीय और पाकिस्तानी मूल के लोग रहते हैं और इसी कारण इस ‘महामुकाबले’ के लिए टिकटों की कीमत आसमान छूने लगीं। 20 हजार क्षमता वाले ओल्ड ट्रैफर्ड स्टेडियम में होने वाले इस मैच के टिकट विंडो खुलने के कुछ ही घंटों में बिक गए लेकिन जिन लोगों ने उस समय टिकट खरीदा था, अब वे उन्हें बेचकर भारी मुनाफा कमा रहे हैं।

ऐसे ही लोगों से टिकट लेकर उसे रीसेल (दोबारा बिक्री) करने वाली वेबसाइट-वियागोगो (वियागोगो डॉट कॉम) के मुताबिक उसके पास करीब 480 टिकट दोबारा बिक्री के लिए आए और इनमें ब्रॉन्ज, गोल्ड, प्लेटिनम और सिल्वर कटेगरी के टिकट थे।

कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक ब्रॉन्ज और सिल्वर कटेगरी के टिकट उसने अब पूरी तरह बेच दिए हैं और इनकी कीमत 17 हजार रुपये से लेकर 27 हजार रुपये तक रही। वेबसाइट ने हालांकि यह नहीं बताया कि रीसेल के लिए उसने टिकट कितने में खरीदे थे लेकिन रीसेल किए गए टिकटों की कीमत उसने बताई है।

शुक्रवार तक 58 गोल्ड और 51 प्लेटिनम कटेगरी के टिकट उपलब्ध थे, जिनकी कीमत 47 हजार रुपये से लेकर 62 हजार रुपये तक रखी गई है। नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार वेबसाइट के मुताबिक उसके पास गोल्ड कटेगरी के 58 और प्लेटिनम कटेगरी के 51 टिकट उपलब्ध हैं। वेबसाइट के मुताबिक ब्रांज और सिल्वर कटेगरी के टिकटों की कीमत में पांच हजार रुपये का अंतर है। यह इसलिए है क्योंकि जो क्षेत्र शराब के लिए स्वीकृत हैं, उनके लिए अधिक मांग है।

वेबसाइट ने बकायदे स्टेडियम का नक्शा बनाकर उपलब्ध टिकटों के क्षेत्र का ब्यौरा दिया है और साथ ही इस क्षेत्र में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में भी लिखा है।
वेबसाइट के मुताबिक खरीदे गए टिकटों के बदले खरीदार को ईमेल से कंफर्म किया जाएगा और साथ ही उसे यह भी बताया जाएगा कि टिकट कब और कैसे उसके पास पहुंचेगा।

वेबसाइट ने शर्तों में साफ कर दिया है कि वह एक मार्केटप्लेस है और हर मार्केटप्लेस पर टिकटों की कीमत उसके फेस वैल्यू से अधिक हो सकती है। इसका टूर्नामेंट के आयोजकों द्वारा बेचे जा रहे टिकटों के आधिकारिक कीमत से कोई वास्ता नहीं है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com